अमन ने प्रस्तुत किया मानवता की मिशाल, मित्र के जन्मदिन पर किया रक्तदान

बेगूसराय, 10 नवम्बर (हि.स.)। रक्तदान के लिए धीरे-धीरे लोग अब जागरूक होकर रक्तदान करने सामने आ रहे हैं। गुरुवार को रक्तवीर अमन कुमार ने जयमंगला वाहिनी परिवार के सदस्य और अपने मित्र सुमित के जन्मदिवस के अवसर पर सदर अस्पताल स्थित राष्ट्रकवि दिनकर रक्त केंद्र में जीवन का 24 वां रक्तदान किया।

आज के बदलते परिवेश में लोग जन्मदिन किसी बड़े होटल और रेस्टोरेंट में मानते हैं, दोस्तों से पार्टी ले जाती है। लेकिन गुरुवार को अचानक ही सदर अस्पताल के ब्लड बैंक पहुंचे अमन ने जब कहा कि लोगों के जीवन बचाने के लिए सबसे महान काम यह रक्तदान मैं अपने मित्र के जन्मदिवस पर कर रहा हूं तो हर कोई चौंक उठा।

इस दौरान ना केवल ब्लड बैंक के कर्मी, बल्कि अन्य लोगों ने भी ताली बजाकर मित्र का जन्मदिन मनाने के इस अनोखे कार्य की जोरदार सराहना की तथा हर किसी को ऐसे कार्य के लिए आगे आने का आह्वान किया।

रक्तदान कर रहे अमन ने अपना अनुभव साझा करते हुए बताया कि रक्तदान के बाद एक ताजगी महसूस होती है। रक्तदान के साथ-साथ आप एक जीवन तो बचा ही रहे ही, खुद स्वस्थ हैं या नहीं, इसका भी पता चल जाता हैं।

सुमित ने अमन के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जन्मदिवस पर इससे बढ़कर कोई उपहार हो ही नहीं सकता है। जहां पर जीवन बचाने के लिए रक्तदान कर किसी की जान बचा रहे हैं। जिस प्रकार जयमंगला वाहिनी परिवार पूरी तत्परता के साथ रक्तदान के लिए जागरूकता ला रही है। इसमें सभी का सकारात्मक सहयोग चाहिए, तभी रक्तदान के क्षेत्र में क्रांति संभव हैं।

Check Also

बिहार में कुढ़नी उपचुनाव में जाति की राजनीति पर जनता की चोट है भाजपा की जीत

पटना, 08 दिसम्बर (हि.स.)। बिहार में मुजफ्फरपुर जिले की कुढ़नी विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव …