नौकरी छोड़ने के बाद अब खुद करें ये काम, वरना अटक जाएगा आपका PF का पैसा

अगर आप प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में नौकरी करते हैं तो आपकी सैलरी का एक हिस्सा प्रोविडेंट फंड (PF) के तौर पर कटता है. इस पैसे को कर्मचारी के PF खाते में जमा किया जाता है. प्रोविडेंट फंड का पैसा नौकरीपेशा के लिए बहुत मायने रखता है. इसमें जमा पैसे रिटायरमेंट के बाद उनके काम आता है. नौकरी बदलने पर पीएफ अकाउंट को ट्रांसफर किया जाता है. लेकिन, PF का पैसा तक तब ट्रांसफर या निकाला नहीं जा सकता जब तक अकाउंट में डेट ऑफ एग्जिट (Date of Exit) अपडेट नहीं होती. अगर आपने नौकरी बदलने पर EPFO सिस्टम में डेट ऑफ एग्जिट नहीं दर्ज की तो आपका पीएफ का पैसा अटक सकता है. आइए जानते हैं इसके बारे में.

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने अपने सब्सक्राइबर्स को इस समस्या के समाधान के लिए बड़ी सुविधा दी है. अब कर्मचारी खुद नौकरी छोड़ने की तारीख EPFO सिस्टम में खुद दर्ज कर सकते हैं. पहले इसके लिए कर्मचारी को कंपनी पर निर्भर रहना होता था. केवल कंपनी के पास ही कर्मचारी के कंपनी से जुड़ने और छोड़ने की तारीख डालने का अधिकार था. लेकिन अब EPFO सिस्टम में डेट ऑफ एग्जिट दर्ज करने का अधिकार कर्मचारी को मिल गया है.

अगर आप भी अपने PF खाते में डेट ऑफ एग्जिट दर्ज करना चाहते हैं तो इसकी प्रक्रिया बेहद आसान है. बता दें कि अगर आपने हाल ही में नौकरी छोड़ी है तो डेट ऑफ एग्जिट दर्ज करने के लिए आपको 2 महीने का इंतजार करना होगा.

 

ये है पूरा प्रोसेस

>> सबसे पहले https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ पर जाएं.

>> UAN, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालकर लॉग इन करें.

>> Manage पर जाएं और Mark Exit पर क्लिक करें.

>> ड्रॉप डाउन के अंतर्गत Select Employment से PF Account Number को चुनें.

>> Date of Exit और Reason of Exit दर्ज करें.

>> Request OTP पर क्लिक करें और आधार से लिंक्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी दर्ज करें.

>> चेक-बॉक्स को सेलेक्ट करें.

>> Update पर क्लिक करें.

>> OK पर क्लिक करें.

EPFO के मुताबिक अगर आपकी एग्जिट डेट अपडेट नहीं है तो आप अपने PF अकाउंट से पैसे नहीं निकाल सकते हैं और न ही अकाउं को नई कंपनी में ट्रांसफर कर सकते हैं.

Check Also

साप्ताहिक शेयर समीक्षा- शुरुआती तेजी को अंत तक संभाल नहीं सका शेयर बाजार

नई दिल्ली :  शुक्रवार यानी 14 मई को समाप्त हुआ कारोबारी सप्ताह भारतीय शेयर बाजार …