बालकनी से शुरू हुई थी अभिषेक बच्चन और ऐश्वर्या की प्रेम कहानी, टूट गई थी शादी

बॉलीवुड के ‘गुरु’ अभिषेक बच्चन ने पिछले कुछ सालों में कई ऐसे किरदार निभाए हैं, जिन्होंने थिएटर से लेकर ओटीटी तक हर जगह खुद को साबित किया है। आज उनका 48वां जन्मदिन है। मेगास्टार के बेटे होने के बावजूद अभिषेक ने अपने करियर में काफी संघर्ष किया है। एक समय ऐसा भी था जब अभिषेक ने लगातार 15 फ्लॉप फिल्मों का दौर देखा था। लेकिन समय बदला और उन्हें ‘गुरु’ जैसी दमदार फिल्म मिली और सभी ने उनकी प्रतिभा को पहचाना। तभी उनकी जिंदगी में एक अप्सरा आई और दुनिया देखती रह गई। हाँ! उन्हें उस समय मिस वर्ल्ड ऐश्वर्या राय से प्यार हो गया और वह उनसे बेहद प्रभावित हो गए। आइए अभिषेक के जन्मदिन पर जानते हैं उनकी खूबसूरत प्रेम कहानी के बारे में….

इसी फिल्म के सेट पर दोस्ती हुई थी

ऐश्वर्या राय और अभिषेक बच्चन की प्रेम कहानी साल 2000 में शुरू हुई थी। दोनों के बीच मुलाकात और दोस्ती की शुरुआत फिल्म ‘ढाई अक्षर प्रेम’ से हुई। इसके बाद दोनों ने कई फिल्मों में साथ काम किया और धीरे-धीरे दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई। ‘ढाई अक्षर प्रेम के’ के बाद ऐश्वर्या राय ने 2003 में अभिषेक बच्चन के साथ फिल्म ‘कुछ ना कहो’ में काम किया। दोनों 2006 में ‘उमराव जान’ में भी साथ नजर आए थे। इसके बाद जब ऐश्वर्या और अभिषेक ने एक बार फिर ‘धूम 2’ में साथ काम किया और यह भी तय कर लिया कि अब उन्हें अपनी जिंदगी एक साथ बितानी है।

बालकनी में शादी के लिए प्रपोज किया

जब अभिषेक को ऐश्वर्या राय को प्रपोज करना था तो उन्होंने अलग तरीके से प्रपोज करने का फैसला किया। अभिषेक ने ओपरा विन्फ्रे के शो पर इस यादगार घटना का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क में एक फिल्म की शूटिंग के दौरान वह अपने होटल के कमरे की बालकनी पर खड़े होकर सोचने लगे कि अगर वह ऐश्वर्या से शादी कर लें तो कितना अच्छा होगा। अभिषेक ऐश्वर्या को उसी बालकनी में ले गए और शादी के लिए प्रपोज किया।

शादी में आई ये दिक्कत

आपको बता दें कि अभिषेक और ऐश्वर्या राय की शादी देश की सबसे यादगार शादियों में से एक है। क्योंकि कुंडली के दोष ने दोनों की शादी में बड़ी बाधा पैदा कर दी थी। जिसके लिए शादी से पहले कई तरह की पूजा-अर्चना की गई। जिसके बाद ऐश्वर्या और अभिषेक ने 4 जनवरी 2007 को सगाई कर ली और 20 अप्रैल 2007 को शादी कर ली।