8 साल के बच्चे की हत्या के बाद फरार किराएदार की लाश पेड़ पर लटकी मिली, मासूम के शरीर पर जलाने और चाकू से गोदने के निशान मिले

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पीएम के लिए भिजवाया।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पीएम के लिए भिजवाया।

  • नीलगंगा क्षेत्र के शांति नगर में सोमवार देर शाम 8 साल का बच्चा गायब हो गया था
  • सुबह उसकी लाश किराएदार के घर से मिली, आरोपी घटना के बाद से ही फरार था

उज्जैन में मंगलवार को एक दर्दनाक घटना सामने आई। साेमवार शाम से लापता 8 साल के बच्चे की लाश पुलिस को उसी के किराएदार के रूम से मिली। बच्चे के शरीर पर जलाने और चाकू से गाेदने के निशान मिले हैं। बच्चे की हत्या के मामले में फरार किराएदार की लाश भी पुलिस को दोपहर में बड़नगर में एक पेड़ पर लटकी मिली। पुलिस पता लगा रही है कि आखिर उसने बच्चे को इतनी बेहरमी से क्यों मारा और फिर खुद भी फंदे से लटक गया।

 

पुलिस ने बताया कि उज्जैन के शांति नगर निवासी के चार बच्चे हैं। दूसरे नंबर का 8 साल का मासूम सोमवार रात को आंगन में अन्य बच्चों के साथ गरबा खेल रहा था। परिजन अपने काम में व्यस्त हो गए। कुछ देर बाद जब वह दिखाई नहीं दिया तो घर वालों ने आस-पड़ोस में पूछताछ की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। इतना ही नहीं किराएदार और पिता का खास दोस्त सुनील भी उसके साथ तलाशने में लगा रहा। काफी खोजबीन के बाद जब मासूम नहीं मिला तो परिजनों ने नीलगंगा थाने पहुंच गुमशुदगी दर्ज करवाई। सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची और आसपास के लोगों से पूछताछ कर खोजबीन शुरू की।

किराएदार सुनील का शव पेड़ से लटका मिला।

किराएदार सुनील का शव पेड़ से लटका मिला।

पुलिस ने पास स्थिति कुएं में भी बच्चे को तलाशने की कोशिश की। एनडीआरएफ की टीम को बुला कर पानी में भी उसे तलाशा गया। इसके बाद पुलिस ने एक बार फिर से सुबह जब कान्हा को तलाशा तो करीब 11 बजे किराएदार सुनील के घर में ही गद्दे में लिपटा कान्हा लहूलुहान मिला। सुनील को तलाशा गया तो वह फरार हो चुका था। पुलिस को बच्चे के पेट पर लोहे की रॉड से दागने के निशान और कुछ घाव भी मिले। पुलिस ने आरोपी सुनील को गिरफ्तार करने के तत्काल टीमों को गठन किया और उन्हें जानकारी अनुसार उसे तलाशने के लिए रवाना किया। मामले की जानकारी लगते ही आईजी राकेश गुप्ता, नवागत एसपी सत्येंद्र शुक्ला, एडिशनल एसपी अमरिंदर सिंह सहित तमाम अन्य आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने जानकारी ली।

उज्जैन आईजी राकेश गुप्ता ने बताया कि रात में भी पुलिस ने बच्चे को तलाशने की कोशिश की थी। सूचना के बाद खाचरोद के रहने वाले किराएदार सुनील को खोजने एक टीम उसके गांव पहुंची। जब तक पुलिस सुनील तक पहुंच पाती, वह फांसी के फंदे पर लटक चुका था। उसकी लाश पुलिस को ग्राम अंबोदिया में एक पेड़ पर लटकी मिली।

 

Check Also

कृषि मंत्री ने ‘चाय’ के लिए कहा तो किसानों ने दिया उन्हें ‘जलेबी’ का न्योता, जानें पूरी खबर

दिल्ली: कृषि कानून को लेकर लगातार चातवें दिन किसानों का आंदोलन जारी है. ऐसे में किसानों …