7वां वेतन आयोग: नए साल में केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, 1 जनवरी से बढ़ेगा DA

7th Pay Commission DA Hike: केंद्र सरकार के 65 लाख कर्मचारियों को नए साल के पहले दिन से खुशखबरी मिलेगी. जी हां, यह खुशखबरी डीए बढ़ोतरी के रूप में होगी। अगर आप या आपके परिवार में कोई केंद्रीय कर्मचारी है तो यह खबर आपके लिए फायदेमंद है। नवंबर एआईसीपीआई सूचकांक डेटा श्रम मंत्रालय द्वारा जारी किया गया है। 2022 में अभी दिसंबर महीने के ही आंकड़े आने बाकी हैं। लेकिन जुलाई से नवंबर के आंकड़ों के आधार पर साफ है कि केंद्रीय कर्मचारियों को आगे कितना डीए बढ़ोतरी मिलेगी?

अक्टूबर की तुलना में नवंबर में कोई बदलाव नहीं हुआ 

श्रम मंत्रालय ने नवंबर के आंकड़े 31 दिसंबर को जारी किए हैं। अक्टूबर के मुकाबले नवंबर के आंकड़ों में कोई बदलाव नहीं हुआ। अक्टूबर में यह आंकड़ा 1.2 अंकों की बढ़त के साथ 132.5 के स्तर पर पहुंच गया। अब नवंबर में भी यह आंकड़ा 132.5 है। श्रम मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों से साफ है कि एक जनवरी से कर्मचारियों के डीए में 4 फीसदी की बढ़ोतरी होगी. हालांकि, सरकार इस बढ़ोतरी की घोषणा मार्च में करेगी।

सितंबर में यह आंकड़ा 131.3 अंक पर था

अक्टूबर में भी एआईसीपीआई इंडेक्स का आंकड़ा 132.5 अंक पर था। इससे पहले सितंबर में यह 131.3 अंक था। अगस्त में यह आंकड़ा 130.2 अंक था। जुलाई से इसमें लगातार इजाफा हुआ है। अक्टूबर के बाद नवंबर में ही ठहराव देखने को मिला था। एआईसीपीआई लगातार हो रही बढ़ोतरी से नए साल पर जनवरी में 65 लाख कर्मचारियों के डीए (महंगाई भत्ता) में बढ़ोतरी का रास्ता साफ हो गया है.

कितना बढ़ेगा डीए? 

जुलाई के डीए में 4 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 38 फीसदी हो गया. अब इसे दोबारा 4 फीसदी बढ़ाने पर यह 42 फीसदी हो जाएगा. इस बढ़ोतरी के बाद कर्मचारियों के वेतन में बड़ी बढ़ोतरी होगी. बता दें कि सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) के तहत केंद्रीय कर्मचारियों का डीए साल में दो बार बढ़ाया जाता है. जनवरी 2022 और जुलाई 2022 का डीए घोषित किया गया है। अब जनवरी 2023 के डीए की घोषणा की जाएगी।

डेटा कौन जारी करता है?

बता दें कि एआईसीपीआई इंडेक्स के आधार पर महंगाई भत्ते में कितनी बढ़ोतरी होगी? हर महीने के अंतिम कार्य दिवस पर, श्रम मंत्रालय द्वारा अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (AICPI) डेटा जारी किया जाता है। यह इंडेक्स 88 केंद्रों और पूरे देश के लिए तैयार किया जाता है।

Check Also

Defence Budget 2023: मोदी सरकार के एक कदम से पाकिस्तान और चीन की नींद हराम हो गई

Defence Budget 2023: चीन और पाकिस्तान के संयुक्त खतरे का सामना करने के लिए भारत के …