सुस्ती और थकान दूर करके ऊर्जावान और खुश रहने के 6 उपाय

अगर इन दिनों आपका लगातार काम करने का मन करता या आप हमेशा आराम करना पसंद करते हैं, तो संभव है आप ‘लॉकडाउन थकान’ (Lockdown Fatigue) से पीड़ित हों। कोरोना महामारी को शुरू हुए करीब 19 महीने हो गए हैं और तब से कई बार लॉकडाउन लग गया है। ऐसे में बहुत से लोग इस समस्या से पीड़ित हैं। चलिए जानते हैं कि यह क्या समस्या है और इससे कैसे राहत पाई जा सकती है।

लॉकडाउन थकान क्या है?

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में माइंड वृक्ष के सीनियर कंसल्टेंट रोहित गर्ग बताते हैं कि जिस तरह एक कार को नहीं चलाया जाता, तो उसकी बैटरी खत्म हो जाती है। इसी तरह अगर इंसान इधर-उधर नहीं जाता है, तो उसे थकान का सामना करना पड़ता है। यह वास्तव में मानसिक थकान है, शारीरिक थकान नहीं।

लॉकडाउन थकान के लक्षण

एक्सपर्ट्स मानते हैं कि इस स्थिति में सुबह जागने का मन नहीं करता, काम और घर के काम करना भूलना, दिनभर थकान और सुस्त रहना, बार-बार सोने का मन करना, शरीर में गंभीर दर्द रहना, हमेशा बीमार महसूस करना अदि इसके लक्षण हैं।

– दिन भर थकान महसूस करना
– पर्याप्त नींद नहीं लेना
– भविष्य और अनिश्चितताओं पर बहुत अधिक ध्यान देना
– काम पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाना
– दिनचर्या नहीं बनाए रखना

लॉकडाउन थकान के कारण

बेंगलुरु के सलाहकार चिकित्सक डॉ मनोहर केएन बताते हैं कि मौजूदा स्थिति में घर से काम करना इस थकान में बहुत बड़ा योगदान रहा है। मनोचिकित्सक डॉ नवीन जयराम भी इसकी पुष्टि करते हैं। वे कहते हैं कि पिछले कुछ हफ्तों में कम से कम 4-5 मामले आए हैं जिनमें थकावट और थकान से संबंधित समस्याएं शामिल हैं। लोग बेचैनी, सुस्ती और थकान की शिकायत लेकर आ रहे हैं।

लॉकडाउन थकान से बचने के उपाय

जैसे-जैसे सोशल डिस्टेंसिंग और वर्क फ्रॉम होम की स्थिति नई सामान्य होती जा रही है, इस समस्या का समाधान खोजना बहुत जरूरी हो जाता है। फोर्टिस में मेंटल हेल्थ एंड बिहेवियरल साइंसेज की मुख्य कामना छिब्ब कहती हैं कि अपना ख्याल रखने और इस थकान को दूर करने के लिए आपको उन चीजों पर ध्यान देना चाहिए जिन्हें आप दैनिक आधार पर नियंत्रित कर सकते हैं।

– मोटिवेटेड और एक्टिव रहें
– अच्छा आहार लें और नियमित रूप से हाइड्रेट करें
– दिन में सोने से बचें
– बिस्तर पर जाते समय मोबाइल और लैपटॉप को दूर रखें
– सामाजिक संबंध बनाए रखें

थकान दूर करने के लिए इन चीजों का करें सेवन

टमाटर का सूप
टमाटर का ताजा सूप पीने से भूख बढ़ती है, और शरीर में उत्पन्न हुई खून की कमी दूर हो जाती है। इस उपाय से शारीरिक कमजोरी भी दूर होती है। टमाटर का सूप पीने से मुख-मंडल पर लाली आ जाती है।

कॉफी
कॉफी का सेवन करने से मानसिक तनाव दूर होता है, और शरीर भी नयी ताजगी महसूस करता है। भोजन करने के बाद कॉफी पीने से पेट हल्का महसूस करता है। कॉफी पीने से पेट की छोटी मोटी गड़बड़ियां भी दूर हो जाती हैं।

नमक और ठंडा पानी
मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए थोड़ा नमक ले कर उसे ठंडे पानी में मिला लें और फिर उस घोल से पूरे शरीर पर मालिश करें। यह उपाय करने पर शरीर की मांसपेशीयों को आराम मिलेगा।

पीपल का पत्तों का मुरब्बा
शारीरीक कमजोरी दूर करने के लिए पीपल के पत्तों का मुरब्बा लाभदायक होता है। अच्छी क्वालिटी के अखरोट की गिरि खाने पर भी शरीर को शक्ति मिलती है।

पर्याप्त नींद लें
सुबह ताजा और ऊर्जावान उठने के लिए पर्याप्त नींद लेना जरुरी होता है। व्यक्ति को स्वस्थ रहने के लिए 7-8 घंटे सोना चाहिए। यह शरीर की खोई ऊर्जा को वापिस लाने में मदद करती है। अगर आप दिन में थका हुआ महसूस करते हैं तो नींद की एक झपकी ले सकते हैं।

8 गिलास पानी
शरीर को स्वस्थ रखने के लिए रोजाना 8-9 गिलास पानी पीना जरुरी होता है। इससे शरीर हाइड्रेट रहता है और ऊर्जावान बनते हैं। जब भी आपको शरीर में ऊर्जा की कमी हो तो एक गिलास पानी पी लें। इससे शरीर को तुरंत ऊर्जा मिलती है।

विटामिन्स भी हैं जरूरी
शरीर में विटामिन और खनिज तत्वों की कमी दूर करने के लिए बागी सलाद के पत्तों का सलाद खाने के साथ खाना चाहिए। प्रति दिन एक गिलास दूध के साथ अलसी के बीज साबुत निगलने से भी शरीर की कमजोरी दूर होती है। यह प्रयोग दिन में दो बार भी किया जा सकता है, पर शुरुआत एक बार से करें।

Check Also

क्या आप भी है पेट की गैस से परेशान, जानें इसके कारण और निवारण के उपाय !!

पेट में गैस की समस्या कई कारणों से हो सकती है लेकिन समय रहते अगर …

");pageTracker._trackPageview();