5 साल की बच्ची से दरिंदगी का मामला:गर्ल फ्रेंड से मिलने गया था आरोपी, नहीं मिली ताे लौटते समय मासूम से दरिंदगी; दोस्तों को भी बताया

आरोपी सुनील कुमार फिलहाल पुलिस की गिरफ्त में है। - Dainik Bhaskar

आरोपी सुनील कुमार फिलहाल पुलिस की गिरफ्त में है।

मासूम के साथ दरिंदगी करने वाला आरोपी शाहपुर (सिंघाना) का रहने वाला सुनील कुमार (20) पुत्र बलवान को गिरफ्तार कर लिया गया है। जो अपनी करतूत को छिपाने के लिए बार बार पुलिस को झूठ बोलता रहा। गिरफ्तारी के वक्त वह पुलिस को यही कहता रहा कि उसने कुछ नहीं किया। पुलिस उसे तस्दीक के लिए लेकर गई तो वह दो किमी के दायरे में यहां वहां घुमाता रहा। आखिर सख्ती करने पर उसने अपनी काली करतूत के बारे में बताया। उसने बताया कि वह गर्ल फ्रेंड से मिलने के लिए चिड़ावा गया था। वह नहीं मिली तो पिलानी की तरफ जाते समय उसने रास्ते में मासूम को उठाया और दरिंदगी की।

घटनास्थल पर मिट्टी में दरिंदगी के निशान देखकर पुलिस भी सन्न रह गई। रेत पर पड़ा खून और हाथ पैरों के निशान हैवानियत की कहानी कह रहे थे। इधर, मासूम अभी जयपुर के अस्पताल में भर्ती है। उसकी हालत अब ठीक है, लेकिन वह अब भी डरी और सहमी हुई है। संभागीय आयुक्त समित शर्मा ने भी मासूम के बारे में जानकारी ली और कलेक्टर यूडी खान को परिवार की मदद के निर्देश दिए। सवेरे कलेक्टर यूडी खान व एसपी मनीष त्रिपाठी मासूम के घर पहुंचे और परिवार को एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी। मामले में अभिभाषक संघ चिड़ावा ने आरोपी की पैरवी नही करने का निर्णय लिया है। बार अध्यक्ष नवीनसिंह झाझड़िया ने बताया कि ऐसे मामले में आरोपी को सख्त सजा होनी चाहिए।

दुष्कर्म के बाद गाड़ाखेड़ा छोड़ा, चाॅकलेट दिलाई
जिस जगह से मासूम का अपहरण किया गया। वहां उसकी दो बड़ी बहनें भी खेल रही थी लेकिन आरोपी ने सबसे छोटी काे चाॅकलेट का लालच दिया। मासूम के अपहरण के बाद आरोपी उसे स्कूटी पर पिलानी से सूरजगढ़, काकाेड़ा श्यामपुरा के रास्ते अपने खेत में ले जाकर दुष्कर्म किया। इसके बाद वह उसे वापस स्कूटी पर गाड़ाखेड़ा के पास लेकर आया और चॉकलेट दिलाकर सड़क किनारे यह कहकर छोड़ गया कि वह वापस आ रहा है। इसके बाद वह घर चला गया। आरोपी का पिता खेती का काम करता है। शनिवार सवेरे बेटे की करतूत पर उसने कहा कि ऐसा घिनौना काम करने वाले को फांसी की सजा देनी चाहिए।

घर पर जाकर छिपा, अपने कपड़े भी छिपा दिए
पुलिस की पूछताछ में आराेपी सुनील ने चाैंकाने वाला खुलासा किया है। वह गर्ल फ्रेंड से मिलने चिड़ावा गया था। वह नहीं मिली ताे आरोपी पिलानी की तरफ गया। श्याेराणाें की ढाणी में उसने मासूम का अपहरण किया और करीब 40 किलोमीटर तक उसे स्कूटी पर ले जाकर सुनसान जगह पर दुष्कर्म किया। सामने आया है कि गांव जाकर आराेपी ने अपने दाेस्ताें काे भी घटना के बारे में बताया। दुष्कर्म के बाद आरोपी घर जाकर सीढ़ियों में बनी छत पर जाकर छिप गया। पुलिस ने पूरा घर खंगाल लिया, लेकिन वह कहीं नहीं मिला। इसी बीच इसका सिर नजर आया तो पुलिस ने तुरंत इसे पकड़ लिया। उसने कपड़े भी छिपा दिए।

आरोपी की तलाश में लगाए 150 जवान, छह घंटे में पकड़ा गया
दुष्कर्म की ऐसी घटनाओं के खिलाफ इस बार पुलिस बधाई की पात्र है। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने छह घंटे में आरोपी को पकड़ लिया। इसके लिए एसपी मनीष त्रिपाठी ने रात को ही 150 पुलिस जवानों की टीम तैनात की। टीम में चिड़ावा डीएसपी सुरेश शर्मा, बुहाना डीएसपी ज्ञानप्रकाश चाैधरी, प्रशिक्षु आरपीएस गरिमा जिंदल, पिलानी थानाप्रभारी इंद्रप्रकाश यादव, चिड़ावा थानाप्रभारी लक्ष्मीनारायण सैनी, सदर थानाप्रभारी गोपालसिंह ढाका, बुहाना थानाप्रभारी महेंद्र सिंह, अपराध सहायक अनिल शर्मा, मंड्रेला थानाधिकारी राकेश कुमार मीणा, सूरजगढ़ थानाधिकारी अरुण सिंह, बगड़ थानाधिकारी श्रवण कुमार और साइबर सैल के दिनेश कुमार शामिल थे। इसमें विशेष योगदान गाडाखेड़ा चाैकी प्रभारी शेरसिंह का रहा। आरोपी के खिलाफ चिड़ावा में थाने में मारपीट का एक मामला दर्ज है।

 

Check Also

खेसारी के इस गाने ने इंटरनेट पर मचाया धमाल, केवल आठ घंटे में मिले 5 लाख व्यूज

भोजपुरी सिनेमा के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव (Khesari Lal Yadav) का नया होली गाना रिलीज …