5 सांसदों का समर्थन पाने वाले चिराग के चाचा पशुपति पारस ने बताई LJP में टूट की बड़ी वजह

पटना : लोजपा के 5 सांसदों का समर्थन पाकर रातों-रात राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने वाले चिराग पासवान के चाचा पशुपति कुमार पारस ने पार्टी में टूट की वजह बताई है। इसके साथ ही उन्होंने नीतीश की तारीफों के पुल बांधे। उन्होंंनेे कहा कि नीतीश कुमार एक अच्छे प्रशासक हैं।

पशुपति पारस ने कहा कि लोजपा के तत्कालीन अध्यक्ष चिराग पासवान के द्वारा विधानसभा चुनाव में अलग लड़ने के फैसले से पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं में आक्रोश था। इसलिए रविवार को पार्टी के पांच सांसदों ने मिलकर ओम बिरला को चिट्ठी दी है, जिसमें पशुपति पारस को संसदीय दल का नेता चुने जाने की मांग की गई है।

पशुपति पारस ने कहा कि रामविलास पासवान की आत्मा को शांति के लिए मजबूरी में पार्टी नेतृत्व में बदलाव करना पड़ा। इसके साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह एक अच्छे प्रशासक हैं। उन्होंने बिहार के विकास के लिए काम किया है और आगे भी करते रहेंगे। बता दें कि लोजपा ने 6 में से 5 सांसदोंं ने लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर सदन में अलग गुट के रूप में मान्यता देने का आग्रह किया है। इन पांचों सांसदों का नेतृत्व रामविलास पासवान के छोटे भाई और हाजीपुर के सांसद पशुपति कुमार पारस कर रहे हैं।

Check Also

जातीय जनगणना को लेकर सड़क पर उतरेगी RJD:7 अगस्त को पटना सहित बिहार के सभी जिला मुख्यालयों पर राजद करेगी प्रदर्शन; मांग को लेकर सड़क पर उतरेगी

  फाइल फोटो। जातीय जनगणना की मांग को लेकर मुख्य विपक्षी पार्टी राजद ने सड़क …