जी-20 परिषद की पर्यावरण और जलवायु स्थिरता कार्य समूह की तीसरी बैठक 21 से मुंबई में

मुंबई, 20 मई (हि.स.)। जी-20 परिषद की भारत की अध्यक्षता में पर्यावरण और जलवायु स्थिरता कार्य समूह की तीसरी बैठक 21 से 23 मई तक मुंबई में आयोजित की गई है। इस बैठक का मुख्य उद्देश्य संचार योजना के परिणामों के आधार पर दृष्टिकोण पर चर्चा करना होगा।

जानकारी के अनुसार कार्य समूह की तीन दिवसीय बैठक रविवार को जुहू चौपाटी पर तटीय सफाई अभियान के साथ शुरू होगी। इसके बाद ‘ओशन-20’ डायलॉग का आयोजन किया जाएगा। तटीय सफाई अभियान का उद्देश्य हमारे समुद्र तटों और महासागरों की सुरक्षा में जन जागरूकता और सामुदायिक भागीदारी पैदा करना है। ओशन-20 फोरम को इंडोनेशिया की जी-20 अध्यक्षता के दौरान समुद्र के मुद्दों पर विचार और कार्रवाई को आगे बढ़ाने के लिए लॉन्च किया गया था। इस पहल को बनाए रखने और जोड़ने की दृष्टि से, पर्यावरण और जलवायु स्थिरता पर कार्य समूह की तीसरी बैठक नील अर्थव्यवस्था के तीन स्तंभों पर अधिक ध्यान केंद्रित करेगी, जो भारत की अध्यक्षता में सक्रिय नेतृत्व दर्शाती है। इन दोनों का उद्देश्य एक स्थायी और जलवायु-संवेदनशील इंडिगो अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देना है।

बैठक के पहले दिन का सत्र ‘नील अर्थव्यवस्था’ के विभिन्न पहलुओं पर केंद्रित होगा। दिन का पहला सत्र नील अर्थव्यवस्था के लिए विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार पर होगा। इसके बाद नीतियों, शासन और भागीदारी पर सेमिनार होंगे, जबकि इंडिगो अर्थव्यवस्था के लिए वित्तपोषण तंत्र स्थापित करने पर समापन सत्र आयोजित किया जाएगा।

पर्यावरण और जलवायु स्थिरता पर कार्य समूह की तीसरी बैठक अगले दो दिनों में जी-20 देशों के बीच आम सहमति के लिए मंथन के लिए मसौदा मंत्रिस्तरीय बैठक की रूपरेखा पर चर्चा करेगी। आंतरिक सत्र के बाद, जी-20 परिषद में भारत की अध्यक्षता में पर्यावरण और जलवायु स्थिरता पर कार्य समूह, जी-20 सदस्य देशों के बीच महासागरों के सतत प्रबंधन और समुद्री जैव विविधता के संरक्षण के लिए अभिनव समाधान विकसित करने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। प्रत्येक बैठक में वर्तमान स्थिति से निपटने के लिए एक ठोस वैश्विक प्रयास और तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता पर लगातार जोर दिया गया है।

Check Also

नजफगढ़ थाने में आरोपित ने की खुदकुशी Accused committed suicide in Najafgarh police station 08HCRI4 नजफगढ़ थाने में आरोपित ने की खुदकुशी नई दिल्ली, 08 जून (हि.स.)। द्वारका जिले के नजफगढ़ थाने में एक शख्स ने हवालात के अंदर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उसने गमछे से फंदा लगाकर अपनी जान दी है। पुलिस के अनुसार उसे ओखला इलाके से चोरी के आरोप में नजफगढ़ थाना पुलिस लेकर आई थी। युवक ने किस वजह से खुदकुशी की और उसके ऊपर क्या मामला दर्ज था या नहीं, इसके बारे में अभी पुलिस जांच कर रही है। हालांकि हवालात में खुदकुशी के इस मामले की सूचना मिलने के बाद रात में ही जिला के आला पुलिस अधिकारी भी थाने में पहुंचे और मामले की पूरी जानकारी ली। डीसीपी एम हर्षवर्धन ने गुरुवार को बताया कि अभी मामले की जांच की जा रही है। जांच में तथ्य सामने आयेंगे उसके आधार पर एक्शन लिया जायेगा। डीसीपी ने बताया की बीती रात 10:41 बजे के आसपास की यह घटना है। जिस शख्स ने थाने के अंदर खुदकुशी की है, उसकी पहचान शेख अब्दुल्ला के रूप में हुई है। इसे सात जून को चोरी के दो मामलों में गिरफ्तार किया गया था। इसके पास से पुलिस ने दो चोरी के मोबाइल और चोरी की मोटरसाइकिल को भी बरामद किया था। इस मामले में अब जुडिशल मजिस्ट्रेट के द्वारा जांच की जा रही है। साथ ही सीसीटीवी फुटेज को भी चेक किया जा रहा है।

नई दिल्ली : द्वारका जिले के नजफगढ़ थाने में एक शख्स ने हवालात के अंदर …