Thursday , July 18 2019
Home / उत्तर प्रदेश / 38 हजार गर्भवती महिलाओं को मिला 7.66 करोड़

38 हजार गर्भवती महिलाओं को मिला 7.66 करोड़

मीरजापुर। स्वास्थ्य मिशन के आंकड़ों पर गौर करें तो जनपद की 38,305 गर्भवती महिलाओं को 7.66 करोड़ रुपये वितरित किए जा चुके हैं। ग्रामीण क्षेत्र की 35 हजार 819 गर्भवती महिलाओं को 1400 रुपये की दर से 5.14 करोड़ रुपये व नगरीय क्षेत्र की दो हजार 486 गर्भवती महिलाओं को एक हजार रुपये की दर से 2.52 करोड़ रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई।

जिला शोध अधिकारी डॉ. पीके पांडेय ने बताया कि फरवरी 2019 तक प्राधिकृत निजी चिकित्सालयों में 2125 गर्भवती महिलाओं तथा गैर प्राधिकृत निजी चिकित्सालयों में 2412 गर्भवती महिलाओं का प्रसव कराया गया। पिछले वर्ष कुल 35,763 आवेदन आए। इसमें से 2208 नगरीय आवेदन थे, जिनको एक हजार रुपये की दर से 2.20 करोड़ की धनराशि वितरित की गई और ग्रामीण क्षेत्रों से 33 हजार 555 महिलाओं के आवेदन पत्र मिले। इनको 1400 रुपये की दर से 4.70 करोड़ रुपये की धनराशि वितरित की गई। इसके सापेक्ष इस बार तीन हजार महिलाओं के आवेदन ज्यादा आए हैं।

इससे पता चल रहा है कि महिलाओं में इस योजना को लेकर जागरूकता दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है। प्रसव संपन्न होने के बाद निर्धारित राशि भी दे दी गई है। अभियान दिवस पर गर्भवती महिलाओं के गर्भ की द्वितीय और तृतीय माह में कम से कम एक बार स्त्री रोग विशेषज्ञ द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य का परीक्षण किया जा रहा है। प्रसव के पूर्व महिलाओं को टिटनेस का टीका लगाया जाता है। इसके अतिरिक्त सरकारी वाहन व दवा की निःशुल्क व्यवस्था की जाती है।

जननी सुरक्षा योजनांतर्गत गर्भवती महिलाओं की निःशुल्क व्यवस्था 
जननी सुरक्षा योजना अन्तर्गत गर्भवती महिलाओं को सभी सरकारी व गैर सरकारी अस्पतालों, ईएसआई चिकित्सालय, प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों आदि के जनरल वार्ड में प्रसव कराने पर पोषाहार धनराशि अनुमन्य है। जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत हर गर्भवती महिला को निःशुल्क परिवहन, भोजन, उपचार, जांच व खून चढ़ाने जैसी व्यवस्था दी जा रही है।

 

Loading...

Check Also

महिला ने पास जाकर देखा तो बिलख रहा था मासूम,सूखे नाले में पड़े थैले को देखकर भौंक रहे थे कुत्ते

गाजियाबाद जिले के डासना क्षेत्र में सोमवार को एक नवजात शिशु सूखे नाले में मिला। ...