भागलपुर…गंगा में 3 दोस्त डूबे:पहली सोमवारी पर रात 2 बजे स्नान कर रहे थे, तेज बहाव में फंसे साथी को बचाने में एक-एक कर तीनों डूबे; 1 का शव मिला, 2 की तलाश जारी

 

सौरभ कुमार के शव को बरामद कर लिया है। मुकेश और राहुल की तलाश की जा रही है। - Dainik Bhaskar

सौरभ कुमार के शव को बरामद कर लिया है। मुकेश और राहुल की तलाश की जा रही है।

सावन की पहली सोमवारी को भागलपुर में बड़ा हादसा हो गया है। सुल्तानगंज के जहाज घाट पर गंगा स्नान करने आए 3 दोस्त नदी में डूब गए। इनमें से एक का शव बरामद कर लिया जबकि 2 की तलाश जारी है। डूबने वाले युवकों की पहचान साहेबगंज निवासी विजय मंडल के पुत्र सौरभ कुमार (18), कैलाश चौधरी के छोटे पुत्र मुकेश कुमार (15) और वीरेन्द्र साह के पुत्र राहुल कुमार (16) के रूप में की गई है। तीनों नाथ नगर थाना क्षेत्र के रहने वाले थे। राहुल नाथनगर के पासीटोला का रहने वाला है। स्थानीय लोगों ने सौरभ कुमार के शव को बरामद कर लिया है जबकि मुकेश और राहुल की तलाश जारी है।

मौत के बाद घाट पर रोते-बिलखते परिजन।

मौत के बाद घाट पर रोते-बिलखते परिजन।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि तीनों युवक पहली सोमवारी को गंगा स्नान और जल भरने के लिए सुल्तानगंज पहुंचे थे। तीनों अपने घर से यह कहकर निकले थे कि स्नान के बाद जल भरकर मनोकामना मंदिर में पूजा करने जाएंगे। तीनों रात में ही सुल्तानगंज पहुंच गए। रात करीब दो बजे के आसपास तीनों गंगा स्नान करने के लिए गंगा में उतरे थे। स्नान करने के क्रम में वे तेज बहाव के कारण बडे़ गड्ढे में चले गए।

जब एक साथी डूबने लगा तो उसे बचाने के क्रम में दूसरा और फिर तीसरा भी बचाने के लिए उधर की ओर भागा। इसी में तीनों डूब गए। फिलहाल तीनों के परिजन गंगा घाट पर पहुंच गए हैं, जहां सभी का रो-रोकर बुरा हाल है । SDRF की टीम को सूचना दे दी गई है। मौके पर सुलतानगंज थाने की पुलिस पहुंच गई है।

मौके पर उमड़ी भीड़।

मौके पर उमड़ी भीड़।

प्रशासन की लापरवाही से हुई घटना
श्रावणी मेला और गंगाजल भरने पर जिला प्रशासन के द्वारा पूरी तरह से रोक लगाई गई है, लेकिन श्रद्धालुओं को गंगा स्नान करने से रोकने के लिए घाट पर पुलिस की तैनाती नहीं की गई थी। जो घाट खतरनाक हैं उसे न तो चिन्हित किया गया है और न ही वहां कोई पोस्टर या बैनर ही लगाया गया है। प्रतिवर्ष जहाज घाट,सीढ़ी घाट सहित अन्य खतरनाक घाटों को नगर परिषद के द्वारा चिह्नित किया जाता था, बैरिकेडिंग की जाती थी। लेकिन इस साल ऐसा कुछ चिह्नित नहीं किया गया।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

बेगूसराय एसपी ऑफिस के समीप छह लाख से अधिक की चोरी

बेगूसराय, 25 सितम्बर (हि.स.)। बेगूसराय में अपराध नियंत्रण के लिए पुलिस के किए जा रहे …