24 घंटे में एक बार आता है महादिव्य समय, जानिए तुरीय बेला का रहस्य

पूरे दिन में सिर्फ एक विशेष समय ऐसे होता हैं, जब आप दिल से कुछ भी मांगेगे तो आपकी हर मनोकामना पूरी हो सकती है. यह कोई जादू नहीं है बल्कि शोध मे इस बात का खुलासा हुआ है.

तुरीय बेला यह शब्द शायद अपने पहली बार सुना होगा, लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दे की रात के 11:00 बजे से लेकर 1:00 बजे तक के समय को तुरीय बेला कहते हैं.

अभी तक आपको इस विशेष समय का महत्व नहीं पात होगा. तुरिया बेला समय ऐसा होता है जब प्रकृति अपनी शक्ति को जागृत करने का कार्य करती है. यदि इस बिच्ज आपने कुछ विशेष कार्य कर लिया, तो आपके जीवन में कभी भी दुर्लभता नहीं आ सकती है.

11:00 बजे से लेकर 1:00 बजे तक के दरमियान आपके जितने भी कार्य और अपनी इच्छाये है उन्हे लाल कलम से एक सादे कागज पर लिख लीजिये, और उस पर हल्दी का छिड़काव करे, इसके बाद उस कागज को कपूर से जला देना. अंत मे जो राख होगी उसको प्रतिदिन अपने मस्तक पर सुबह लगाए.

Check Also

अपने पर्स में रख लें इनमें से कोई एक चीज, महालक्ष्मी की कृपा से कभी नहीं रहेगी आपकी जेब खाली

जीवन में बहुत भागदौड़ है और इस भागदौड़ भरी जिंदगी में हर कोई व्यक्ति पैसा …