2020 में अब तक कश्मीर घाटी में हुए 75 सफल ऑपरेशन, 180 से ज्यादा आतंकी ढेर

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर पुलिस ने 2020 में कश्मीर घाटी मेंअब तक 75 सफल ऑपरेशन करके 180 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया है. इस बात का खुलासा आज जम्मू कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने श्रीनगर में हुई एक प्रेस वार्ता में की. पुलिस के अनुसार 2020 में ऑपरेशन के दौरान केवल एक नागरिक की मृत्यु एक्टिव ऑपरेशन के दौरान हुई जो इस बात का सबूत है कि लोग अब सुरक्षाबलों के साथ काफी सहयोग कर रहे हैं.

 

इस साल हुए ऑपरेशन के दौरान सुरक्षाबलों के 55 जवान इस दौरान शहीद हुए जिनमें सब से ज्यादा सीआरपीएफ (CRPF) के जवान हैं. शहीद होने वाले जवानों में सीआरपीएफ के 21, जम्मू-कश्मीर पुलिस के 19 और सेना के 15 कर्मी शामिल हैं. पिछले पांच दिनों में सुरक्षाबलों ने चार सफल ऑपरेशन अंजाम दिए जिनमें दस आतंकी मारे गए.

 

आज ही श्रीनगर में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने लश्कर से जुड़े दो आतंकियों को मार गिराया जिन में एक पाकिस्तानी भी था. श्रीनगर के बर्ज़ाल्ला इलाके में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने लश्कर के आतंकी सैफुल्लाह को मार गिराया जो कई आतंकी वारदातों में शामिल था. इसमें बडगाम, पुलवामा और श्रीनगर में सुरक्षाबलों पर होने वाले हमले शामिल थे. इन हमलो में सुरक्षाबलों के चार जवान शहीद और पांच ने ज़ख़्मी हुए थे.

 

वहीं दूसरी तरफ आतंक के रास्ते पर चलने वाले कई नए आतंकियों को वापस लाने में भी सफलता मिली है. शनिवार को पुलवामा में एक मुठभेड़ में लश्कर के आतंकी ने सुरक्षाबलों के सामने आत्मसमर्पण किया जिसके साथ ही इस साल अभी तक आतंक का रास्ते छोड़कर वापस लौटने वाले आतंकियों की संख्या 26 हो गयी है. आंकड़ों के अनुसार इस साल अभी तक 190 से ज्यादा युवक आतंकी बने जिनमें से करीब 145 को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है.

 

लेकिन इन सफलता के बीच सुरक्षाबलों के लिए चिंता श्रीनगर को लेकर बढ़ी है जहां पर आतंकी गतिविधियां काफी बढ़ी हे. 2020 में अभी तक श्रीनगर में हुई आठ मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 18 आतंकियों को मार गिराया है लेकिन इस के उलट 2016-2019 के बीच चार सालो में श्रीनगर में केवल 5 मुठभेड़ हुई थीं. लेकिन जम्मू कश्मीर पुलिस इसको सिरे से नकार रही है.

 

पुलिस का कहना है कि आतंकियों की तमाम कोशिशों के बावजूद भी वह श्रीनगर में कोई ठोस पकड़ नहीं बना सके हैं और इस समय सक्रिय आतंकियों में श्रीनगर का केवल एक निवासी है जिसको बहुत जल्द न्यूट्रलाइज कर दिया जाएगा.

Check Also

शासन-प्रशासन की अनदेखी से परेशान खिलाड़ी खुद कर रहे ग्राउंड में घास की कटाई

खिलाड़ी ही घास हटाने का काम कर रहे हैं। रोज गांधी ग्राउंड में प्रैक्टिस करने …