तृणमूल विधायक के घर आय कर छापेमारी में 15 करोड़ बरामद

कोलकाता, 12 जनवरी (हि.स.)। पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के विधायक और पूर्व मंत्री जाकिर हुसैन के कारखाने, गोदाम और अन्य ठिकानों पर तलाशी अभियान के दौरान आयकर विभाग ने कुल 15 करोड़ रुपये की बरामदगी की है। बुधवार दोपहर शुरू हुई छापेमारी गुरुवार शाम पांच बजे खबर लिखे जाने तक जारी है। गुरुवार को विभाग की ओर से जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई है। बुधवार दोपहर के समय जंगीपुर से विधायक जाकिर हुसैन के तीन बीड़ी कारखाने, गोदाम, चावल मिल और अन्य ठिकानों पर छापेमारी हुई थी। इनमें से नौ करोड़ रुपये केवल एक जगह से मिले हैं जबकि बाकी गोदाम से दो करोड़ और अन्य जगहों से चार करोड़ रुपये की बरामदगी भी हुई है। हालांकि देर रात जाकिर हुसैन ने दावा किया था कि वह पिछले 23 सालों से इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं।

दरअसल बुधवार दोपहर के समय आयकर विभाग ने मुर्शिदाबाद और कोलकाता की कुल 28 जगहों पर छापेमारी की थी। इनमें मूल रूप से जाकिर हुसैन के कारखाने, दफ्तर और गोदाम शामिल थे। आय से अधिक संपत्ति के मामले में हुई यह छापेमारी बुधवार देर रात तक चली थी। सबसे पहले शिव बीड़ी कारखाने, उसके बाद शमशेरगंज के आनंद बीड़ी कारखाने और बिजली बीड़ी कारखाने में छापेमारी हुई। उसके बाद उनके चावल मिल में भी आयकर की टीम पहुंची। इनकम टैक्स के अधिकारियों के साथ सुरक्षा के लिए पुलिस के बजाय केंद्रीय बलों के जवान मौजूद थे जिन्होंने पूरे परिसर को अपने सुरक्षा घेरे में ले लिया था। जाकिर ने कहा है कि उन्हें परेशान करने के लिए छापेमारी की गई है। उन्होंने कहा कि उनके पास आय-व्यय का पूरा हिसाब किताब है। हालांकि जब से नगदी बरामदी हुई है उसके बाद से वह मीडिया के कैमरों के सामने से नदारद हैं।

कोलकाता के 54 नंबर वार्ड से तृणमूल कांग्रेस के विधायक और मेयर परिषद के सदस्य अमीरुद्दीन बॉबी के होटल में भी आयकर टीम पहुंची थी। वहां से महत्त्वपूर्ण दस्तावेज बरामद हुए थे।

Check Also

MNS Vs Aaditya Thackeray : मनसे विधायक राजू पाटिल ने आदित्य ठाकरे पर निशाना साधा।

कल्याण : नासिक दौरे के दौरान आदित्य ठाकरे ने भाजपा शिंदे समूह के साथ मनसे …