14 साल के लड़के ने 30 लाख कैश उड़ाए:पड़ोस के 19 साल युवक को भी साथ लिया, दादा के भाई के घर की चोरी, खर्च नहीं कर पाए इतनी बड़ी राशि; पुलिस ने 27 लाख बरामद किए

 

पड़ोसी युवक जुनैद अब पुलिस गिरफ्त में है।

अलवर के मालाखेड़ा के महुआखुर्द गांव में एक 14 साल के लड़के ने अपने दादा के भाई के घर से 30 लाख रुपए कैश चुरा लिए। इस काम में उसका साथ 19 वर्षीय पड़ोसी युवक ने दिया। मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने पड़ताल कर पड़ोसी युवक जुनैद पुत्र साहबुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया। 14 साल के किशोर को निरुद्ध् किया गया है।16 जुलाई को उमर खां के घर में घुसकर संदूक का ताला तोड़ कर रकम चोरी की गई थी।पुलिस ने 27 लाख रुपए दोनों से बरामद भी कर लिए हैं।

दोनों ने बांट ली थी रकम
मालाखेड़ा थाना के एसएचओ सुरेश कुमार ने बताया कि 16 जुलाई को वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस बड़ी मशक्कत कर चोरों तक पहुंची। इसमें एक नाबालिग है। नाबालिग ने खुद को 10वीं क्लास का छात्र बताया है। दूसरा 19 साल का युवक है। वह 12वीं में पढ़ता है। इन दोनों ने योजना बनाकर उमर के घर से रकम पार की थी। 17 लाख रुपए नाबालिग से मिले और 10 लाख रुपए जुनैद से मिले हैं।

जमीन बेचने की रकम थी
पुलिस ने बताया कि उमर ने कुछ दिन पहले जमीन बेची थी। उसका पैसा घर में रखा था। यह उन दोनों को पता लग गया। इसके बाद उन्होंने संदूक का ताला तोड़ा और रकम ले गए। परिवार के लोगों को 16 जुलाई तड़के पता लगा था। परिवादी ने बताया कि जमीन के बदले जमीन खरीदनी है। इस कारण रकम घर पर रखी थी। आरोपियों के पास से ताला तोड़ने वाला औजार भी पुलिस ने बरामद किया है। उमर का आधार कार्ड भी आरोपियों के पास से बरामद हुआ है।

खर्च नहीं कर पाए राशि
पुलिस ने बताया कि आरोपी चुराई रकम को खर्च नहीं कर पाए। असल में परिवारजन ने उसी दिन रिपोर्ट दर्ज करा दी थी। इसके बाद पुलिस जांच में जुट गई थी। पुलिस की नजर लगातार बनी हुई थी। इस कारण ये कहीं बाहर नहीं जा सके।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

महाराष्ट्र में बाढ़-भूस्खलन से अब तक 164 की मौत, उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने बाढ़ प्रभावित गांवों का दौरा

मुंबई/पुणे: महाराष्ट्र के रायगढ में 11 शव, वर्धा और अकोला में दो-दो शव मिलने के साथ …

");pageTracker._trackPageview();