टेरर फंडिंग व संदिग्ध गतिविधियों के मामले में सबसे बड़ी कार्रवाई, एनआईए व ईडी की संयुक्त छापेमारी में 106 लोग गिरफ्तार

nia_1_163531366716x9_861

नई दिल्ली, 22 सितंबर (हि.स.)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की संयुक्त टीम ने गुरुवार सुबह से राजधानी दिल्ली समेत 11 राज्यों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के ठिकानों पर छापेमारी करते हुए अब तक 106 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। वहीं, छापेमारी के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अहम बैठक चल रही है।

खबर लिखे जाने तक यह छापेमारी जारी है। केरल, कर्नाटक और महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा गिरफ्तारियां हुई हैं। राजधानी दिल्ली से तीन लोग गिरफ्तार किए गए हैं, जबकि उत्तर प्रदेश से आठ लोग पकड़े गए हैं। सूत्रों के अनुसार, दिल्ली में पीएफआई अध्य्क्ष परवेज के यहां एनआईए ने तड़के साढ़े तीन बजे छापेमारी कर उसे और उसके भाई को गिरफ्तार किया। ओखला में रहने वाला परवेज लंबे समय से पीएफआई से जुड़ा है।

सूत्रों के अनुसार, पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के ठिकानों पर आज सुबह राष्ट्रीय जांच एजेंसी, प्रवर्तन निदेशालय और राज्य पुलिस की मदद से यह छापेमारी की गई है। इस छापेमारी में सबसे ज्यादा गिरफ्तारी केरल में हुई। इस बीच एनआईए द्वारा पहले दर्ज एक मामले में जांच एजेंसी ने हैदराबाद के चंद्रयानगुट्टा में तेलंगाना पीएफआई मुख्यालय को सील कर दिया है। पुणे के कोढ़वा इलाके में भी छापेमारी चल रही है।

छापेमारी के दौरान केरल में 22 लोगों के अलावा कर्नाटक और महाराष्ट्र में 20-20 लोग गिरफ्तार किए गए हैं। इसके बाद सबसे ज्यादा 10 गिरफ्तारी तमिलनाडु से की गई है। इसी क्रम में असम से 9, उत्तर प्रदेश से 8, आंध्र प्रदेश से पांच, मध्य प्रदेश से चार लोगों को गिरफ्तार किया गया जबकि दिल्ली और पुड्डुचेरी से भी 3-3 लोग पकड़े गए हैं। राजस्थान से भी दो गिरफ्तारियां हुई हैं।

सूत्रों के मुताबिक, महाराष्ट्र में भी पीएफआई के ठिकानों पर एनआईए का सर्च ऑपरेशन चल रहा है। महाराष्ट्र में कुछ पीएफआई नेताओं को एनआईए ने हिरासत में लिया है। पीएफआई पर देश में हिंसा भड़काने, आतंकवादी हमले कराने, दंगे फसाद और टेरर फंडिंग जैसे गंभीर आरोप हैं। पीएफआई के डी कंपनी के साथ भी कनेक्शन की बात सामने आ रही है। ऐसे में एएनआई को जांच के बाद पुख्ता सबूत भी मिल सकते हैं।

सूत्रों की माने तो उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के इंदिरा नगर इलाके से मोहम्मद वसीम उर्फ बबलू को एनआईए ने हिरासत में लिया है। आरोपित वसीम कपड़ा सिलने का काम करता है। इसके अलावा एनआईए और एटीएस की चार टीमें यूपी में छापेमारी कर रही है।

Check Also

06_10_2022-arvind_kaur_dhaliwal_9144478

अरविंदर कौर धालीवाल को धहन पुरस्कार का प्रथम पुरस्कार मिला, बलविंदर ग्रेवाल और जावेद बूटा की पुस्तकों का भी चयन किया गया

वैंकूवर : दहन साहित्य पुरस्कार समिति द्वारा हर साल दिए जाने वाले साहित्यिक पुरस्कारों की …