10 लाख स्थायी नौकरी के वादे को दोहराया, शिक्षकों से किया समान काम के बदले समान वेतन का वादा

 

  • प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी यादव ने युवाओं की बेरोजगारी के मुद्दे को उठाया और बिहार सरकार पर 15 साल में कोई काम न करने का आरोप लगाया

महागठबंधन ने शनिवार सुबह बिहार विधानसभा चुनाव के लिए अपना घोषणा पत्र जारी किया। महागठबंधन ने बेरोजगारी को मुख्य चुनावी मुद्दा बनाया है। घोषणा पत्र में सरकार बनते ही कैबिनेट की पहली बैठक में 10 लाख स्थायी नौकरी देने के वादे को दोहराया गया है। इसके साथ ही शिक्षकों से समान काम के बदले समान वेतन देने का वादा किया गया है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी यादव ने युवाओं की बेरोजगारी के मुद्दे को उठाया और बिहार सरकार पर 15 साल में कोई काम न करने का आरोप लगाया। घोषणा पत्र को ‘प्रण हमारा संकल्प बदलाव का’ के नाम से जारी किया गया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में राजद नेता तेजस्वी यादव, कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह, सीपीआई एमएल के शशि यादव, सीपीआई एम के अरुण सिन्हा, सीपीआई के राम बाबू कुमार और अन्य नेता मौजूद थे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान घोषणा पत्र पढ़ते तेजस्वी यादव।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान घोषणा पत्र पढ़ते तेजस्वी यादव।

घोषणा पत्र की मुख्य बातें

  • पहली कैबिनेट में 10 लाख युवाओं को नौकरी देंगे।
  • किसानों का ऋण माफ करेंगे।
  • राज्य के युवाओं के सभी सरकारी बहाली परीक्षाओं के आवेदन फॉर्म नि:शुल्क होंगे।
  • राज्य के अंतर्गत गृह जिला से परीक्षा केंद्र तक की यात्रा मुफ्त होगी।
  • देश के हर राज्य में कर्पूरी श्रमवीर सहायता केंद्र बनेंगे, जहां किसी भी तरह की आपदा एवं आवश्यकता पड़ने पर श्रमवीर प्रवासी व उनके परिवार को बिहार सरकार से मदद मिल सकेगी।
  • मनरेगा के तहत प्रति परिवार की बजाय प्रति व्यक्ति को काम का प्रावधान।
  • न्यूनतम वेतन की गारंटी और कार्य दिवस को 100 से बढ़ाकर 200 किया जाएगा।
  • मनरेगा की तर्ज पर ही रोजगार योजना भी बनाई जाएगी।
  • संविदा प्रथा को समाप्त कर नियोजित शिक्षकों को स्थायी करेंगे, समान काम, समान वेतन की नीति पर अमल करेंगे।
  • सभी विभागों में निजीकरण को समाप्त किया जाएगा। साथ ही स्थायी और नियमित नौकरी की व्यवस्था की जाएगी।

 

Check Also

कोरोना में बदला प्रचार का तरीका, सोशल साइट पर वोट साध रहे प्रत्याशी

  कोरोना काल में चुनाव प्रचार के लिए बिहार चुनाव के लिए कई राज्यों से …