हिसार में हिस्ट्रीशीटर शिखंडी की हत्या:वारदात का CCTV फुटेज आया सामने; विरोध में बंद रखे गए बाजार, 31 मई को हुए झगड़े से जोड़ रही पुलिस

पटेल नगर में युवक पर चाकू से हमले की सूचना पर पहुंची पुलिस जांच करती हुई। - Dainik Bhaskar

पटेल नगर में युवक पर चाकू से हमले की सूचना पर पहुंची पुलिस जांच करती हुई।

  • मृतक अमित के खिलाफ मारपीट व अवैध शराब तस्करी सहित 17 केस दर्ज हैं
  • एक व्यापारी ने बीच-बचाव करने की कोशिश की तो उसे भी मारने की धमकी दी

हरियाणा के हिसार जिले के पटेल नगर में पुरानी रंजिश के चलते हिस्ट्रीशीटर 32 वर्षीय अमित भुटानी उर्फ शिखंडी को बदमाशों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा और फिर चाकुओं से गोदकर उसकी हत्या कर दी। सोमवार सुबह वारदात का CCTV फुटेज सामने आया, जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है। वहीं सोमवार को हत्या के विरोध में बाजार बंद रखे गए। हत्याकांड के बाद से इलाके में तनाव का माहौल बना हुआ है, जिसके चलते पुलिस बल तैनात रहा।

बताया जा रहा है कि अमित के खिलाफ मारपीट व अवैध शराब तस्करी सहित 17 केस दर्ज हैं। 31 मई की रात को पटेल नगर वासी विजय और उसके दोस्तों के साथ अमित का झगड़ा हुआ था। इस मामले में मुकदमा भी दर्ज हुआ था, जिसमें अमित उर्फ शिखंड़ी, अनूप, सोनी और रजत हुड्डा नामजद थे। इसलिए अमित के साथ हुई वारदात को विजय के साथ हुए झगड़े से जोड़कर भी पुलिस जांच कर रही है।

प्रत्यक्षदर्शी बोला- मैंने रोकने की कोशिश की थी

पटेल नगर के व्यापारी सुभाष ने बताया कि मेरी आंखों के सामने हत्या की गई है। वह शिखंडी को दौड़ा-दौड़ाकर पीट रहे थे और वह बचकर भाग रहा था, लेकिन युवकों ने उसे चाकू से गोद दिया। मैंने कहा कि बेटा मत मारो, लेकिन उन्होंने मेरी नहीं सुनी। उसे पत्थर और कुर्सी भी मारी। मुझे कहा कि अंकल पीछे हट जा, वरना तूझे भी मार देंगे। जब अमित मर गया, तब वे कम्युनिटी सेंटर की तरफ भाग गए।

हत्या के बाद जांच करने वारदात स्थल पर पहुंचे DIG बलवान सिंह राणा मौजूद पुलिस अधिकारियों से जानकारी लेते हुए।

हत्या के बाद जांच करने वारदात स्थल पर पहुंचे DIG बलवान सिंह राणा मौजूद पुलिस अधिकारियों से जानकारी लेते हुए।

इन धाराओं के तहत दर्ज हुआ था मुकदमा

पुलिस के अनुसार, पटेल नगर वासी विजय की शिकायत पर धारा 323, 325, 34 के तहत अमित उर्फ शिखंडी सहित चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। पार्षद महेंद्र जुनेजा के क्लीनिक के पास विजय के साथ झगड़ा हुआ था। पार्षद ने बीच-बचाव तक किया था। विजय ने आरोप लगाया था कि रात करीब 9.30 बजे जुनेजा क्लीनिक के पास खड़े होकर वह दोस्तों से बात कर रहा था। तब शिखंडी, अनूप, सोनी व रजत हुड्डा आए थे। शिखंडी ने बोला, ‘तूने मुझे कुछ दिन पहले गालियां दी थीं, उसका आज तेरे को मजा चखाता हूं। इतना कहकर शिखंडी ने मेरे सिर में लाठी मारी थी।’

अमित उर्फ शिखंडी पर 17 मामले दर्ज

पीएलए चौकी पुलिस के अनुसार, मृतक अमित उर्फ शिखंडी का क्रिमिनल रिकॉर्ड है। इसके खिलाफ कुल 17 मुकदमे दर्ज हैं। अवैध शराब, लड़ाई-झगड़े सहित अन्य आरोपों के तहत केस दर्ज हैं। हाल ही में मारपीट का मुकदमा दर्ज हुआ था। इसलिए अंदेशा है कि पुरानी रंजिश के तहत मारा गया है। सिविल लाइन थाना SHO बलवंत ने बताया कि मृतक के भाई अंकुश के बयान पर हत्या का केस दर्ज किया गया है।

 

खबरें और भी हैं…
NEWS KABILA

Check Also

बजरी माफिया और पुलिस के बीच मुठभेड़, दोनों तरफ से हुई फायरिंग,एक आरोपी पकड़ा, 2 ट्रैक्टर ट्रॉली,1 कट्टा व 5 जिंदा कारतूस जब्त

धौलपुर : जिले की सागर पाड़ा चौकी पर नाकाबंदी के दौरान सोमवार सुबह बजरी माफिया और …