हिम्मत से हुई वीर की जय…:बकरियों के बाड़े में घुसा तेंदुआ; युवक ने किया मुकाबला, पंजों की मार के बाद लगाने पड़े हाथों पर टांके

 

युवक की बाजू पकड़े हुए खूंखार जानवर तेंदुआ। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

युवक की बाजू पकड़े हुए खूंखार जानवर तेंदुआ। -फाइल फोटो

  • गुड़गांव जिले के सोहना इलाके की घटना, गंभीर रूप से घायल युवक नागरिक अस्पताल में एडमिट

गुड़गांव में एक जंगली जानवर के आबादी में घुस आने से खौफ का माहौल बन गया। बताया जाता है कि यहां एक तेंदुआ बकरियों के बाड़े में घुस गया। इससे पहले कि वह शिकार कर पाता, बाड़े के मालिक परिवार के युवक ने उसका मुकाबला पकड़ लिया। हालांकि वह खुद गंभीर रूप से जख्मी हो गया, लेकिन बकरियों को बचाने में कामयाब रहा। बहादुरी तो देखिए कि शरीर पर कई जगह टांके लगाने पड़े। बावजूद इसके वह दोबारा बकरियों के बाड़े में ही जाकर सोया।

घटना अरावली की पहाड़ी से सटे सोहना इलाके में बने बकरियों के बाड़े में शुक्रवार की रात को घटी। खेड़ला गांव के निवासी जयवीर पुत्र मल्लाह बकरियों के बाड़े में सोया हुआ था। तभी शुक्रवार रात करीब 12 बजे एक तेंदुआ बकरियों के बाड़े में घुस गया। जैसे ही जयवीर की आंखों के सामने एक बकरी पर तेंदुआ झपटा तो जयवीर ने तेंदुए को लाठी मार दी। इसके बाद तेंदुए ने जयवीर पर हमला कर दिया और उसके दोनों हाथों पर तेंदुए ने नाखूनों से गहरे जख्म हो गए।

जयवीर का कहना है कि उसने तेंदुए को घायल होने के बाद भी चार लाठियां मारी और इसका नतीजा रहा कि तेंदुआ भाग खड़ा हुआ। इसके बाद परिजनों ने घायल जयवीर को सोहना अस्पताल में भर्ती कराया। वहां उसके शरीर पर गंभीर घाव होने की वजह से कई जगह टांके लगाने पड़े। इसके बावजूद जयवीर डरा नहीं और शनिवार की रात को भी वह दोबारा बकरियों के बाड़े में ही जाकर सो गया।

 

Check Also

550 दिन बाद सुलझा मामला:अभिनेत्री के पिता ने मुंबई से आकर वापस ली CM हेल्पलाइन की शिकायत, चोरी के मामले में जांच से संतुष्ट नहीं थे

माधवनगर थाने में खड़ी कार का मुआयना करते अभिनेत्री मदिराक्षी के पिता दिनेशचंद्र जोशी व …