हार्ट अटैक से बचा सकते हैं किचन में मौजूद मसाले जानकारी ही बचाव है

नई दिल्ली: हार्ट अटैक (Heart Attack) कभी भी अचानक आ सकता है. लेकिन कुछ लक्षण हैं, जो हार्ट अटैक आने से 1 महीने पहले नजर आने लगते हैं. हार्ट अटैक से बचने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप तनाव रहित रहें. इसके अलावा हार्ट अटैक से बचने के कुछ और तरीके भी हैं जैसे कि ज्यादा कैलोरी वाले खाने से बचना और नियमित व्यायाम (exercise) करना आदि. लेकिन अगर आप अपने दिल की सेहत को लेकर फिक्रमंद रहते हैं तो इन पांच मसालों का इस्तेमाल आपके लिए लाभदायक रहेगा. आइये आपको बताते हैं.

काली मिर्च
काली मिर्च (black papper) कॉर्डियोप्रोटेक्ट‍िव एक्शन को सक्रिय करने का काम करती है. ये न केवल ऑक्सीडेटिव डैमेज से सुरक्षा देने का काम करती है बल्कि कार्डियक फंक्शन को भी बढ़ाती है.

लहसुन
बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल दिल से जुड़ी बीमारियों का सबसे बड़ा कारण है. अपने खाने में लहसुन (garlic) को शामिल करके आप कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं. लहसुन में एलिसिन नामक एंटी-ऑक्सीडेंट पाया जाता है जो न केवल कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने का काम करता है बल्क‍ि ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करता है. ऐसे में लहसुन खाना दिल से जुड़ी बीमारियों से दूर रहने का कारगर उपाय है.

 

धनिया के बीज
धनिया के बीजों (coriander seeds) में एंटी-ऑक्सीडेंट की अच्छी मात्रा होती है. इसमें मौजूद तत्व फ्री रेडिकल्स से दिल को सुरक्षित रखने का काम करते हैं. कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए, ब्लड फ्लो बढ़ाने के लिए धनिये के बीज का इस्तेमाल फायदेमंद होता है.

हल्दी
एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर हल्दी (turmeric) ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मददगार है. इसके अलावा ये डायबिटीज से बचाव का भी अच्छा उपाय है.

दालचीनी
खाने में दालचीनी (cinnamon) के इस्तेमाल से ब्लड फ्लो बेहतर होता है. जिससे खून का थक्का बनने की आशंका बहुत कम हो जाती है. दिल से जुड़ी बीमारियों से सुरक्षित रहने के लिए रोजाना चुटकीभर दालचीनी का इस्तेमाल करें.

Check Also

Tips: बालों की खुश्की को इस तरह करें दूर, महंगे प्रोडक्ट्स खरीदने की नहीं पड़ेगी जरूरत

बालों की खुश्की से पुरुष और महिलाओं को अक्सर जूझना पड़ता है. खूबसूरत बालों में …