हवाई अड्डे पर गलत संकेत के साथ वायरल हो रही तस्वीर पर उड्डयन मंत्री ने दी सफाई

 

केंद्रीय उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को सोशल मीडिया पर फिर से वायरल हो रही एक गलत अनुवाद वाली पुरानी तस्वीर पर सफाई दी है. ये तस्वीर एक ‘गलत अनुवादित’ हवाई अड्डे का संकेत है जो पहले भी सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है. इसलिए हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि तस्वीर से छेड़छाड़ की गई है. साथ ही उड्डयन मंत्री ने कहा कि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने 2019 में भी इस तस्वीर पर एक स्पष्टीकरण जारी किया था.

उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को स्पष्टीकरण देते हुए ट्वीट कर कहा कि ‘सुनो ये एक गलत तस्वीर है जो 2015 से वायरल हो रही है, जबकि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने 2019 में भी गलत संकेत पर स्पष्टीकरण जारी किया था’. उड्डयन मंत्री ने अपने ट्वीट में आग्रह किया है कि ‘ऐसी तस्वीरों को पोस्ट करने से पहले थोड़ा सोचना चाहिए, क्योंकि नकली तस्वीरें पोस्ट करना सही नहीं है’.

क्यों गलत बताई जा रही तस्वीर ?

वायरल हो रही इस पुरानी तस्वीर को इस हफ्ते एक ट्विटर यूजर ने शेयर किया था, जिसके बाद उड्डयन मंत्री ने इस पर स्पष्टीकरण दिया है. वहीं तस्वीर पर हिंदी में लिखा है ‘फ़र्श पर खाना सख़्त मन है’, जबकि अंग्रेजी में उसमें लिखा है ‘Eating carpet is strictly prohibited’. यानी कार्पेट को खाना मना है. इस गलती पर उड्डयन मंत्री ने अपनी स्पष्टीकरण पेश किया है.

एएआई ने तस्वीर को बताया फेक

ट्विटर यूजर ने ये पुरानी तस्वीर शेयर करने के साथ लिखा था कि ‘एएआई को भाषा को सही करने के लिए कांग्रेस नेता शशि थरूर की मदद की आवश्यकता है’. जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए थरूर ने कहा था कि वो सुधारी नहीं जा सकती है. वहीं 2019 में एक्ट्रेस शबाना आजमी ने भी इंस्टाग्राम पर एयरपोर्ट साइन की एक फोटो शेयर की थी, जिसके बाद एएआई ने इसे फेक बताया था.

Check Also

दुनिया का सबसे महंगा आम है ताईयो नो तामागो

नई दिल्ली :  दुनिया के सबसे महंगे आम का दर्जा जापानी आम की एक किस्म …