हल्दी का सेवन करने से कम होगा कैंसर का खतरा, यहां जानिए इसके कमाल के फायदे

Health Tips: हमारे किचन में पाई जाने वाली हल्दी दरअसल एक ऐसी दवा है जो हमें कई बीमारियों से बचाती है। हल्दी का सेवन हम लगभग रोज ही मसाले के रूप में करते हैं, चाहे वह सब्जियों में हो या दाल में, यह हमारे खाने में रंग और स्वाद के साथ-साथ हमारी सेहत का भी पूरा ख्याल रखती है।

हल्दी में करक्यूमिन होता है, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। हल्दी हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है और कई गंभीर बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद करती है। आज की कहानी में हम आपको बताएंगे हल्दी के फायदे…

कैंसर को दूर रखता है

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसमें हमारे शरीर में कोशिकाओं की वृद्धि नियंत्रण से बाहर हो जाती है। कैंसर को ऑटो-इम्यून डिजीज भी कहा जाता है, जिसमें हमारे शरीर में बनी अच्छी कोशिकाएं ही कोशिकाओं को मारने लगती हैं। अध्ययनों से पता चला है कि हल्दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन कैंसर के इलाज में काफी फायदेमंद होता है। अध्ययन में यह भी पाया गया है कि करक्यूमिन कैंसर के विकास को भी रोकता है।

गठिया के दर्द में कारगर

डॉक्टर भी मानते हैं कि हल्दी को दर्द निवारक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही यह गठिया जैसे दर्दनाक रोगों में बहुत कारगर होता है, इसका नियमित सेवन आपको जोड़ों के दर्द से दूर रखता है। यह एक इबुप्रोफेन के रूप में कार्य करता है।

हल्दी दिल के दौरे के खतरे को कम करती है

हल्दी का नियमित सेवन हृदय संबंधी समस्याओं को कम करने में भी कारगर है। कई अध्ययनों में यह पाया गया है कि हल्दी का सेवन करने से दिल के दौरे के खतरे से काफी हद तक बचा जा सकता है। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन एंडोथेलियम के कार्य में सुधार करता है, जिससे दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम होता है।

मधुमेह में कारगर

मधुमेह एक ऐसी बीमारी है जो पूरे भारत में तेजी से फैल चुकी है। इस बीमारी में आपको अपने खान-पान का खास ख्याल रखना होता है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के एक अध्ययन के मुताबिक, खाने में हल्दी का इस्तेमाल करने से डायबिटीज के खतरे को कम किया जा सकता है। इसके साथ ही यदि मधुमेह के रोगी इसका नियमित रूप से सेवन करें तो यह इस रोग से होने वाले अन्य जोखिमों से भी दूर रहने में मदद करता है।

अल्जाइमर में फायदेमंद

अल्जाइमर दिमाग से जुड़ी एक बीमारी है, जिससे इससे पीड़ित लोगों की याददाश्त कमजोर होने लगती है। ज्यादातर यह बीमारी बुजुर्ग लोगों में देखी जाती है। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन सूजन और ऑक्सीडेटिव क्षति को कम करता है, जो दोनों ही अल्जाइमर की स्थिति को जन्म देते हैं। ऐसे में हल्दी अल्जाइमर रोग को रोकने में कारगर साबित होती है।

Check Also

क्या आप धनिया की तरह दिखने वाले पार्सल के स्वास्थ्य लाभ जानते हैं?

अजमोद के फायदों के बारे में जानकर आपको इसे अपने आहार में शामिल करने की …