हमेशा बाथरूम में ही क्यों आता है ज्यादातर हार्ट अटैक, वजह जानकर होंगे हैरान

आजकल हार्ट अटैक की समस्या कई लोगों मे देखि जाती है। वैसे तो हार्ट अटैक कभी भी और कहीं भी आ सकता है, लेकिन बाथरूम में ऐसा होने की ज्यादा घटनाएं सामने आती हैं। आखिर क्या वजह है कि बाथरूम में ही लोगों को हार्ट अटैक ज्यादा आता है। आज हम जानते हैं कि बाथरूम से हार्ट अटैक आने का क्या संबंध है।

बाथरूम में ही क्यों आता है ज्यादातर हार्ट अटैक

हार्ट अटैक का संबंध हमारे ब्लड सर्कुलेशन से होता है। ब्लड सर्कुलेशन का सीधा असर हमारे दिल पर होता है। ब्लड सर्कुलेशन हार्ट से ही नियंत्रित होता है। जब हम बाथरूम की टॉयलेट सीट पर बैठ कर जब ज्यादा प्रेशर डालते हैं तो उसका असर सीधा हमारे ब्लड सर्कुलेशन पर पड़ता है। इस प्रेशर से दिल की धमनियों पर दबाव बढ़ता है, जो हार्ट अटैक की वजह बन जाता है।

कई बार नहाने के दौरान हार्ट अटैक आ जाता है। नहाने को लेकर डॉक्टर सलाह देते हैं कि बाथरूम जाते ही पहले अपने तलबों पर पानी डालें, इसके बाद धीरे-धीरे शॉवर लें। अगर आपने ऐसा नहीं किया और सीधा सिर पर ठंडा पानी डाला तो इसका गलत असर ब्लड सर्कुलेशन पर पड़ता है। सीधे सिर पर पानी डालने से कई बार व्यक्ति की दिल की धड़कन एकदम से बंद हो जाती है।

Check Also

मोटापे से बचने के लिए 1 दिन में खाएं कितना चावल, ऐसे खाएंगे तो बिल्कुल नहीं बढ़ेगा वजन

वजन घटाने के लिए अक्सर लोग डाइटिंग (Dieting) करते हैं और खाना पीना कम कर …