हमारे स्वास्थ्य को मूली और उसके पत्तों से ये होते हैं लाभदायक फ़ायदे*

अपने जिंदगी से संबधित जाण कारी देने का मेरा ये छोटासा प्रयत्न हैं…

आप सभी को उपयुक्त आये ऐसी और ‘मैंने पढ़ी हुई’ जाण कारी दे रहा हु… लिखते समय में कुछ गलतिया हुई होगी तो आपका अपना समझ कर माफ कर देणा.

अपेक्षा करता हुं आपको मेरा ये प्रयत्न पसंत आयेगा! चलो तो फिर ये उपयुक्त लेख पढ लिजिये…:-

 

आज का लेख विषय, मुली और उसके पत्तों से हमारे स्वास्थ्य को होनेवाले लाभदायक फ़ायदे:-

 

बहुत से लोग मूली के पत्तों को तोड़कर बाहर फेंक देते हैं। मूली के पत्तों में बहुत पोषक तत्त्व पाए जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी माने गए हैं।

 

आओ जानते हैं लाभदायक फ़ायदे:-

*1- अगर आप मूली के पत्तों का सेवन करते हैं तो आपको आयरन, कैल्शियम, फोलिक एसिड, विटामिन सी और फॉस्फोरस आदि प्राप्त होता है। यह पोषक तत्त्व स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी हैं।*

2- मूली के पत्तों में सोडियम होता है, जो शरीर में नमक की कमी को पूरा करता है। लो ब्लडप्रेशर के मरीजों के लिए भी यह बेहद लाभकारी है। इसके अलावा इसमें मौजूद एंथेकाइनिन दिल के लिए फायदेमंद होता है।

*3- मूली के पत्तों में अधिक डायटरी फाइबर पाए जाते हैं, जिससे व्यक्ति का पाचन तंत्र बेहतर तरीके से काम करता है। यह मूली के पत्ते कब्ज और पेट फूलने जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाते हैं।*

4- मूली के पत्तों में आयरन और फास्फोरस की मात्रा काफी होती है, जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक हैं। इसकेे अलावा इसमें विटामिन सी, विटामिन ए और थायमिन जैसे पोषक तत्व थकान को दूर करने में मददगार होते हैं।

*5- बवासीर जैसी कष्टकारी बीमारी को दूर करने के लिए मूली के पत्ते लाभदायक है। इसमें एंटी−बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती है, जो सूजन व दर्द को कम करती है।*

6- मूली पत्‍तों को चबा-चबाकर खाने से दांतों और मसूड़ों की बीमारियां दूर होती हैं।

*7- मोटापे से छुटकारा पाने के लिए मूली के पत्तों के रस में नींबू और नमक मिलाकर पीने से लाभ मिलता है।*

8- पीलिया के इलाज में भी मूली के पत्ते लाभदायक है। इसके इलाज के लिए पत्तियों का मिक्सी की मदद से रस निकाले और छानकर, एक गिलास रोजाना दस दिनों तक सेवन करने से पीलिया रोग ठीक हो जाता है।

*9- मूली के पत्तो में भरपूर मात्रा में एंटी-कंजेस्टिव गुण होते है जो खांसी और कफ को दूर करने में मदद करते है।*

10- मूली के पत्तों में ऐसे कई गुण होते हैं, जो रक्त में शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। इसके लिए आप मूली के पत्तों का साग बनाएं और उसका सेवन करें।

*11- मूली के पत्तों का रस गुर्दे की पथरी को पिघलाने और मूत्राशय को साफ करने में मदद करता है।*

12- मूली के पत्तों में मौजूद पोषक तत्व और रोगाणुरोधी और जीवाणुरोधी गुण शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद करते हैं।

*इसलिए दोस्तों मूली के पत्तों को न फेंके बल्कि इसके स्वास्थ्य लाभ उठाएं।*

“रोज कुछ नया और अच्छा पढ़ो सुनो, इसका परिणाम आपको धिरे अपने आपमें होने वाले सकारात्मक परिवर्तन से दिख जाएगा…”

इससेअपना मन हमेशा खुश रहता है और संतुष्टि की चरम सीमा प्राप्त कर लेता है.

Check Also

रहना चाहते हैं हेल्‍दी एंड फिट, ये 7 बातें अभी से फॉलो करना शुरू करें

आजकल रहन-सहन इतना महंगा हो गया है कि सब कुछ बजट के बाहर चला गया …