स्मार्ट सिटी योजना:सीएम ने 1087 करोड़ के विकास प्रोजेक्टों का किया आगाज,अमृतसर में नहरी पानी स्कीम की नींव रखी

  • आनंदपुर साहिब को स्मार्ट सिटी स्कीम में शामिल करने की केंद्र से की मांग

सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को स्मार्ट सिटी और अमरुत स्कीमों के अंतर्गत शहरी क्षेत्रों के विकास के लिए 1087 करोड़ के प्रोजेक्टों का वर्चुअल नींव पत्थर रखा और उद्घाटन किया। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की कि श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व पर नौवें पातशाह को श्रद्धांजलि के तौर पर पवित्र नगरी श्री आनंदपुर साहिब को स्मार्ट सिटी योजना में शामिल किया जाए। निकाय चुनाव में

कांग्रेस की जीत पर कैप्टन ने कहा कि यह फतवा सरकार की जनहित नीतियों का प्रमाण है। उन्हें अपने पूर्व संसदीय हलके अमृतसर शहर के लिए 721 करोड़ से नहरी पानी सप्लाई योजना का नींव पत्थर रखने की खुशी है। यह स्कीम दूषित से बचाव और गिरते भूजल पर लगाम लगाएगी। यह समारोह राज्य के 900 स्थानों पर भी हुआ।

तीन हजार करोड़ रुपए की योजना- अमृतसर, जालंधर, लुधियाना और सुल्तानपुर लोधी में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्टों की प्रगति पर कैप्टन ने कहा कि 3000 करोड़ में से योजना के अधीन 1246 करोड़ की लागत से कार्य शुरू किए गए। 918 करोड़ की लागत के कामों के लिए टेंडर मांगे गए हैं और 802 करोड़ रुपए के टेंडर प्रक्रिया अधीन हैं। इसके उलट अकाली-भाजपा के एक दशक के शासन में (2007-17) इन स्कीम के अंतर्गत सिर्फ 35 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे।

जालंधर में 41 करोड़ के अलग-अलग प्रोजेक्ट…जालंधर में 41 करोड़ के अलग अलग काम जैसे बस्ती पीर दाद में 15 एमएलडी एसटीपी, जालंधर रेलवे स्टेशन का नवीनीकरण, रौनक बाजार की बिजली लाइन अपग्रेडेशन आदि का नींव पत्थर रखा। लुधियाना में 40 करोड़ से म्यूसिपल कंट्रोल सेंटर और मिनी रोज गार्डन के सौंदर्यीकरण का नींव पत्थर रखा।

 

Check Also

प्रस्ताव पारित:हाईकोर्ट जज ने वकीलों से किया आग्रह ‘माई लॉर्ड’, योर लॉर्डशिप न कहें

  पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट के जज जस्टिस अरुण कुमार त्यागी ने वकीलों को उन्हें …