स्टेडियम वाले अस्पताल का देखें दर्दनाक VIDEO:बेटा चीखकर बोला- एक घंटे से मेरा बाप तड़प रहा है, मैं हाथ जोड़ रहा हूं, मगर कोई देखने नहीं आ रहा; मर जाएगा तब इलाज करोगे क्या

रायपुर के इंडोर स्टेडियम को कोविड अस्पताल बनाया गया है। ऑक्सीजन वाले बेड लगे हैं। 250 के करीब मरीज भर्ती हो चुके हैं। मगर हर रोज एक जैसी शिकायत सामने आ रही कि यहां उनकी देख-रेख करने वाला कोई नहीं। डॉक्टर्स की गाइडेंस भी नहीं मिल रही। अब यहां का एक वीडियो सामने आया है। एक युवक अपने कोविड संक्रमित पिता की मदद करने की गुहार लगा रहा है। अस्पताल की अव्यवस्था से गुस्साया युवक वीडियो में कहता दिख रहा है कि मेरा बाप तड़प रहा है, मैं हाथ जोड़ रहा हूं, मगर कोई उसे देखने नहीं आ रहा। मैं कह रहा हूं दवा लिखकर दो, मैं ले आऊंगा, मगर कोई नहीं सुन रहा, अरे वो मर जाएगा तब इलाज करोगे क्या ?

इस अस्पताल में दाखिल होने पहले दिन काफी गहमा-गहमी थी।

इस अस्पताल में दाखिल होने पहले दिन काफी गहमा-गहमी थी।

वीडियो बनाने वाले को पुलिस की धमकी

उधर, अस्पताल के कमरे से बाहर आकर चीख रहे युवक का वीडियो बनाने वाले को नगर निगम के कर्मचारियों ने धमकाना शुरू कर दिया। मोबाइल के कैमरे में उस युवक की पीड़ा को कैद करने वाले से कर्मचारियों ने कह दिया बंद करो वीडियो, वीडियो क्यों बना रहे हो। धारा 144 के तहत अंदर करवाऊं, बुलाऊं पुलिस को। जब युवक को दूसरे कर्मचारी घेरकर धमकाने लगे तो उसने कैमरा बंद किया।

जिला प्रशासन बोला- ऑल इज वेल

इंडोर स्टेडियम की लगातार अव्यवस्था उजागर होने के बाद जिला प्रशासन की तरफ से एक बयान जारी किया गया। कहा गया कि रायपुर के सरदार बलबीर सिंह जुनेजा इनडोर स्टेडियम के कोविड केयर सेंटर में 350 बिस्तरों की व्यवस्था है, जिसमें 67 ऑक्सीजन सुविधा युक्त बेड है। 219 बेड में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की व्यवस्था है । मरीजों के इलाज के लिए 24 घंटे डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ की समुचित व्यवस्था की गई है। मरीजों के लिए सभी आवश्यक दवाइयां जो किसी भी बड़े अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए उपलब्ध है, यहां भी मरीजों के लिए निशुल्क उपलब्ध है।

इंडोर स्टेडियम के अंदर की ये तस्वीर एक संक्रमित ने दैनिक भास्कर के लिए खींची, खाली नजर आ रहे बेड पर भी मरीज थे जो कुछ देर पहले ही चल बसे।

इंडोर स्टेडियम के अंदर की ये तस्वीर एक संक्रमित ने दैनिक भास्कर के लिए खींची, खाली नजर आ रहे बेड पर भी मरीज थे जो कुछ देर पहले ही चल बसे।

25 लोगों की मौत, 3 ने तो एडमिट होते ही तोड़ा दम

स्टेडियम मंगलवार की दोपहर आम आदमी के लिए शुरू किया गया। पूरे शहर में बेड की समस्या है कोविड संक्रमण से परेशान लोग भागकर इस अस्पताल में पहुंचे। रात को ही तीन लोगों की मौत हो गई। एक मरीज तो बाथरूम गया और वहीं गिरकर मर गया। सुबह रिश्तेदार उसे काफी देर तक ढूंढ रहे थे। बुधवार शाम तक मरने वालों की संख्या 15 हो गई। ताजा आंकड़ों के मुताबिक अब यहां 25 लोगों की जान जा चुकी है। जब अस्पताल पर सवाल उठे तो अब इस अस्पताल में सिर्फ उन्हें ही एंट्री मिल रही है जिनका ऑक्सीजन लेवल ठीक-ठाक हो।

रायपुर शहर में कोरोना और बेड की व्यवस्था

सरकारी सेंटर्स की बात करें तो रायपुर में मेडिकल कॉलेज के साथ-साथ आयुर्वेदिक कॉलेज , माना और लालपुर में कोविड हॉस्पिटल चलाए जा रहे हैं। अब इसमें फुण्डहर के वर्किंग वुमन हॉस्टल में धरसीवा और तिल्दा विकासखंड में बनाए गए कोविड केयर भी शामिल हो गये है। फुंडहर में 210 धरसींवा में 50 और तिल्दा में 50 बेड की व्यवस्था है । इन तीनों सेंटर के शुरू हो जाने से अब रायपुर जिले में मेडिकल कॉलेज के अलावा बेड की संख्या 1274 हो गई है ,जिसमें 391 ऑक्सीजन और 523 कंसंट्रेटर वाले बेड हैं। रायपुर शहर में पिछले 24 घंटे में 3438 नए मरीज मिले हैं। 60 लोगों की मौत हुई, अब राजधानी में एक्टिव मरीज 25 हजार 394 हैं।

कोई समस्या हो तो ये नंबर डायल करें

होम आईसोलेशन के मरीजों के सहायता के लिये (24×7) यानी किसी भी समय इन फोन नंबर 7880100313, 7880100314, 7880100315, 7566100283 7566100284,7566100285 में संपर्क किया जा सकता है। कोरोना संबंधी सामान्य जानकारी के लिये (सुबह 8 से रात 10 बजे तक) फोन नं.- 8602270023, 8602290023, 8602780023, 8602920023, 07714320202 पर संपर्क किया जा सकता है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

मोदी कोविड-19 से सर्वाधिक प्रभावित 100 जिलों के जिलाधिकारियों से करेंगे संवाद

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोविड-19 से सर्वाधिक प्रभावित देश के 100 जिलों के जिलाधिकारियों …