सेलेब लाइफ:11 साल के बेटे को खोने के गम में डिप्रेशन में चले गए थे शेखर सुमन, फिर छोटे बेटे अध्ययन के जन्म ने खुशियों से भर दी थी ज़िंदगी

हाल ही में एक्टर अध्ययन सुमन के बारे में अफवाह उड़ी कि उन्होंने सुसाइड कर लिया है। एक मीडिया हाउस ने उन्हें लेकर ये फेक खबर चला दी जिसके बाद अध्ययन के पिता शेखर सुमन ने अपनी नाराजगी जाहिर की। शेखर ने कहा कि जिस समय ये खबर मीडिया में आई अध्ययन उस वक्त दिल्ली में थे। परिवार में हड़कंप मच गया और सब बेहद परेशान हो गए। चैनल को ऐसी गलत खबर चलाने के लिए उनसे माफी मांगनी चाहिए।

वैसे, शेखर सुमन ने अपनी लाइफ में काफी उतार-चढ़ाव देखे हैं। उनकी लाइफ में एक ऐसा वक्त आया था जब वह वे डिप्रेशन में चले गए थे।

बड़े बेटे को खो चुके हैं शेखर सुमन

शेखर के बड़े बेटे आयुष को Endocardial Fibroelastosis नाम की रेयर हार्ट डिसीज थी, जिसके कारण उसकी 11 साल की उम्र में मौत हो गई थी। अपने बेटे को खोने के गम में डिप्रेशन में चले गए थे। वे और उनकी वाइफ अलका इतने ज्यादा डिप्रेशन में थे कि उनके अंदर जीने की इच्छा नहीं बची थी।

बेटे अध्ययन के साथ शेखर।

बेटे अध्ययन के साथ शेखर।

शेखर ने एक इंटरव्यू में बताया था आयुष के जाने के लंबे समय बाद उनकी लाइफ पटरी पर आईं। 1988 में दूसरे बेटे अध्ययन का जन्म हुआ। उन्हें सीरियल ‘देख भाई देख’ में काम करने का मौका मिला। इस सीरियल की पॉपुलैरिटी से शेखर को इंडस्ट्री में पहचान बनीं। शेखर का काम अच्छा चलने लगा तो अलका ने छोटे बेटे पर फोकस करना शुरू कर दिया।

पति-पत्नी ने मिलकर बांटे सुख-दुख

अलका ने एक इंटरव्यू में बताया कि हम पिछले 38 साल से साथ हैं। हमने साथ में जिंदगी में कई उतार-चढ़ाव देखे, लेकिन दोनों ने एक-दूसरे का साथ कभी नहीं छोड़ा। हम दोनों ही एक-दूसरे के सबसे बड़े सपोर्टर हैं।

1983 में हुई शादी

80 के दशक में शेखर और अलका दोनों दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट थे। दोनों की मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड के जरिए हुई थी। अलका को देखते ही शेखर को उनसे प्यार हो गया था। उन्होंने बताया था कि अलका में कुछ ऐसी बात थी, जिसकी वजह से वे उनकी ओर अट्रैक्ट हुए थे। अलका ने भी एक इंटरव्यू में बताया था कि शेखर को देखते ही उन्हें लगा था कि यही वह शख्स है, जिसके साथ वे अपनी पूरी लाइफ गुजारना चाहती हैं। धीरे-धीरे दोनों में दोस्ती हुई और फिर प्यार।

कुछ समय डेटिंग के बाद दोनों ने अपने रिलेशन के बारे में पैरेंट्स को बताया। पैरेंट्स को दोनों के रिलेशन को लेकर कोई ऑब्जेक्शन नहीं था। परिवारवाले चाहते थे दोनों जल्दी शादी कर लें। इस दौरान अलका बतौर फैशन डिजाइनर काम करने लगी थीं और शेखर श्रीराम सेंटर दिल्ली में जॉब। उस दौरान शेखर की सैलरी 600 रुपए थी। दोनों ने 4 मई, 1983 को शादी कर ली।

 

Check Also

‘द मैरिड वुमन’ की एक्ट्रेस मोनिका डोगरा ने बताया- किस सीन करते वक्त रिद्धि को जुकाम था, इसलिए मैं थोड़ी डरी हुई थी

    वर्ल्ड वुमंस डे के मौके पर वेब शो ‘द मैरिड वुमन’ रिलीज हुआ। …