Monday , July 22 2019
Home / देश / सेना प्रमुख ने चीनी घुसपैठ के सवाल पर कहा, ‘हम है आप परेशान न हो’

सेना प्रमुख ने चीनी घुसपैठ के सवाल पर कहा, ‘हम है आप परेशान न हो’

नई दिल्ली. भारत में चीनी के घुसपैठी पर सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि कोई घुसपैठ नहीं हुई है. चीनी आते हैं और वास्तविक नियंत्रण की उनकी कथित रेखा पर गश्त करते हैंजिसे हम रोकने की कोशिश करते हैं.  हम वास्तविक नियंत्रण की अपनी रेखा तक पहुंचने का प्रयास करते हैंजो हमें दिया गया है.

उन्होंने कहा, ‘डेमचोक सेक्टर में कुछ तिब्बतियों द्वारा हमारी तरफ से जश्न मनाया जा रहा था. उसके आधार परयह देखने के लिए कि क्या हो रहा थाकुछ चीनी भी इसके विपरीत आए. सब कुछ सामान्य है. बता दे की इससे पहले शुक्रवार को खबर आई कि चीन ने एक बार फिर भारतीय क्षेत्र पर अपनी बुरी नजर डाली है और उकसाने वाली कार्रवाई करते हुए लद्दाख के डेमचोक इलाके में भारतीय सीमा में घुसपैठ की है.

मिली जानकारी के मुताबिक, कुछ दिन पहले चीनी सेना डेमचोक इलाके में छह किलोमीटर अंदर दाखिल हुए और यहां दलाई लामा के जन्मदिन के उत्सव में व्यवधान डाला और स्थानीय लोगों को कथित रूप से डराया-धमकाया. कारगिल संघर्ष के 20 साल बाद‘ पर सेमिनार में बोलते हुए सेना प्रमुख ने कहा, ‘भविष्य के संघर्ष टैक्नोलॉजी के साथ अधिक हिंसक और अप्रत्याशित होंगेसाइबर डोमेन अधिक भूमिका निभा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘भविष्य के संघर्ष और अधिक हिंसक और अप्रत्याशित होंगे जहां ह्यूमन फेक्टर का महत्व कम नहीं रहेगा. हमारे सैनिक हैं और हमारी प्राथमिक संपत्ति रहेंगे. पाकिस्तान को सख्त संदेश देते हुए सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने शनिवार को कहा कि पाकिस्तानी सेना बार-बार दुस्साहस करती है या तो त्रुटिपूर्ण प्रॉक्सी युद्धों से या राज्य प्रायोजित आतंक या घुसपैठ के माध्यम से.

भारतीय सेना हमारे क्षेत्र की रक्षा के लिए दृढ़ है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि किसी भी दुस्साहस को दंडात्मक प्रतिक्रिया के साथ निरस्त किया जाएगा. हम अब किसी भी तरह से कमजोर नहीं है इसलिए हमे उकसाने की कोशिश न करो वरना मिट्टी में मिल जाओगे. 

Loading...

Check Also

दो निर्दलीय विधायकों की सुप्रीम कोर्ट से मांग- शाम तक फ्लोर टेस्ट का आदेश दें,कुमारस्वामी आज बहुमत साबित करेंगे

बेंगलुरु. कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार सोमवार को बहुमत साबित करेगी। इससे पहले रविवार शाम को कांग्रेस-जेडीएस सरकार ...