सूरत में लुटेरी दुल्हन ने कर्नाटक के व्यापारी को लगाया दो लाख का चूना, शादी के कुछ ही समय बाद हुई फरार

सूरत: साल 2015 में आई सोनम कपूर स्टारर फिल्म ‘डॉली की डोली’ आपको याद है? जिसमें एक दुल्हन की दूल्हों से अलग अलग शहरों में शादी करती है और फिर कुछ ही समय में गहनों-नकदी पर हाथ साफ कर फरार हो जाती है. कुछ ऐसा ही मामला सूरत में आया है, जहां एक दूल्हे के साथ करीब 2 लाख रूपये की धोखाधड़ी हुई.

कर्नाटक का है ठगा गया दूल्हा

जानकारी के मुताबिक, दूल्हे का नाम अंकित जैन है. वो कर्नाटक में व्यापारी है. उसने सूरत आकर एक युवती के साथ मंदिर में शादी की. इसके बाद जब वो लोग दुल्हन के साथ कार में लौट रहे थे तब रास्ते में दुल्हन ने वॉशरूम जाने के बहाने कार रोकने को कहा और व्यापारी ने कार रोक दी. काफी देर तक जब दुल्हन बापस नहीं आई तो व्यापारी के परिवार वालों ने तलाश शुरू कर दी. कुछ देर बाद जब उसने बिचौलिए से संपर्क किया तो उसका फोन भी स्विच ऑफ हो गया. इस प्रकार शादी के चंद घंटों में व्यापारी को लगभग 2 लाख रुपये का चूना लग गया. जानकारी के अनुसार दूल्हा कर्नाटक के चिकमगलूर में रहता है.

अंकित को ऐसे बनाया गया शिकार

 

हमारी सहयोगी वेबसाइट इंडिया डाट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, लाइटिंग के कारोबारी अंकित का मुंबई के एक पड़ौसी के जरिए करण सांवत और फिर उसके जरिए सतीश पटेल से संपर्क हुआ. सतीश ने उसे पहले एक युवती दिखाई, लेकिन वह अंकित को पसंद नहीं आई. इस पर उसने व्हॉट्सएप से और युवतियों के फोटोग्राफ्स भेजे. जिनमें से स्वाति को अंकित ने पसंद किया. सतीश ने स्वाति के भाई हितेष को देने के लिए डेढ़ लाख रुपए और पन्द्रह हजार रुपए अलग से ले लिए.

ऐसे हुई सूरत में दुल्हन फरार

शुक्रवार को अपनी माता और मित्र के साथ अंकित शादी के लिए सूरत आया. वे उसे कापोद्रा चार रस्ता के पास नदी किनारे स्थित मंदिर में ले गए. वहां पर अंकित ने उन्हें रुपए दे दिए और फिर फूलमाला पहना कर स्वाति के साथ शादी की. उसकी मां ने स्वाति को सोने की अंगुठी, बिछिया, झांझर और साड़ी दी. शादी के बाद सभी वहां से चले गए. अंकित अपने परिजनों के साथ स्वाति को कार में अपने रिश्तेदार के घर ले जाने के लिए रवाना हुआ. कापोद्रा रचना सर्कल के निकट स्वाति ने लघुशंका के बहाने कार रुकवाई और फरार हो गई. वह नहीं लौटी तो अंकित ने हितेष को फोन किया, लेकिन फोन बंद मिला. उसने अन्य लोगों का भी संपर्क किया, लेकिन सबके मोबाइल बंद मिले और वे अपने घर से भी गायब हो गए. इस पर उसने वराछा पुलिस का संपर्क कर प्राथमिकी दर्ज करवाई.

 

Check Also

मंत्री समूह इस सप्ताह बैठक कर बनाएं आगे की कार्ययोजना : शिवराज

    भोपाल, 15 जून (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कल …