सुसाइड से पहले वीडियो बनाया और बोला- नशा मुझसे नहीं छूटता, इसे छोड़ना चाहता हूं, इसलिए मर ही जाता हूं

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

हिसार। नशा यानी नाश। समाज में तेजी से घुलता नशा न सिर्फ घर उजाड़ रहा है बल्कि युवाओं को बर्बाद करके उनकी जिंदगी तक लील रहा है। ऐसा ही मामला महाबीर कॉलोनी में सामने आया है। यहां रहने वाले 19 वर्षीय अविनाश ने नशे की लत से परेशान होकर शुक्रवार देर रात पंखे से साड़ी बांधकर उसका फंदा बनाकर झूल गया। सुबह 4 बजे दिल्ली से लौटे परिजनों ने कमरे में उसका शव देखकर पुलिस को सूचित किया। इस दौरान मृतक अविनाश के मोबाइल को खंगाला तो उसमें कुछ वीडियो दिखी।

अविनाश ने मरने से पहले वीडियो बनाया और नशे की लत की बात कबूल की।

अविनाश ने आत्महत्या से पहले तीन-चार वीडियो बनाई थी। करीब 11 मिनट की एक वीडियो में वह पानी के कैंपर पर चढ़कर पंखे से साड़ी बांधकर फंदा बनाता दिख रहा है। एक-डेढ़ मिनट की 2 वीडियो हैं। उनमें अपने मरने की वजह कबूल कर फांसी लगाई है। उसने कहा कि नशा मुझसे नहीं छूटता है। इसे छोड़ना चाहता हूं। मैं जिंदगी से बोर हो चुका हूं। क्या करें। इसलिए मर ही जाता हूं यार। इन वीडियो के बाद उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने परिजनों के बयान पर इत्फाकिया मौत की कार्रवाई की है।

मैं छत पर सो रहा था, सुबह पता चला
अभिषेक ने बताया कि हम चार भाई हैं। अविनाश सबसे छोटा था। वह एक ठेकेदार के पास पैकिंग का काम करता था और पिछले काफी समय से ड्रग्स का सेवन करता था। इससे परेशान था। लत छूट नहीं रही थी। शुक्रवार रात को 11 बजे उससे बात हुई थी। इसके बाद मैं छत पर सोने के लिए चला गया था। परिवार के अन्य सदस्य दिल्ली गए थे, जोकि शनिवार तड़के चार बजे लौटे थे। तब उन्होंने देखा था कि अविनाश का शव कमरे में पंखे से झूल रहा है। नशे ने उसकी जिंदगी बर्बाद कर रखी थी। इसलिए परेशान होकर आत्महत्या कर ली।

 

Check Also

पत्नी मेघना के साथ स्वर्ण मंदिर में माथा टेकने पहुंचे डिप्टी सीएम, बोले- पाकिस्तान जाने वाला पानी देश में इस्तेमाल हो

हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला बुधवार को अमृतसर पहुंचे। यहां उन्होंने स्वर्ण मंदिर में …