सुपरवाइजर की मौत पर हंगामा, मुआवजे के लिए परिजनों ने पेपर मिल पर दिया धरना

मेरठ : परतापुर थाना क्षेत्र की पसवाड़ा पेपर मिल में मंगलवार को हुई सुपरवाइजर की मौत के बाद बुधवार को परिजनों ने पेपर मिल के बाहर हंगामा कर दिया। भाजपा नेताओं के साथ पेपर मिल के गेट पर धरना देते हुए मृतक के परिजनों ने मुआवजे की मांग की।

 भोला रोड मुल्तान नगर गली नंबर 11 निवासी 50 वर्षीय सुरेश उपाध्याय परतापुर स्थित पसवाड़ा पेपर मिल में सुपरवाइजर थे। मंगलवार को ड्यूटी के दौरान मिल में पेपर रोल गिरने से चपेट में आकर सुरेश की मौत हो गई थी। घटना को लेकर बुधवार को मृतक के भाई मुकेश और ग्रामीणों ने भाजपा पिछड़ा वर्ग पश्चिमी उत्तर प्रदेश के महामंत्री मुनीष योगी के साथ पेपर मिल के गेट पर धरना दे दिया। परिजनों ने मिल के मालिकों की लापरवाही को सुरेश की मौत का जिम्मेदार बताते हुए उसके परिवार को 40 लाख का मुआवजा दिए जाने की मांग करते हुए हंगामा कर दिया।
मृतक के भाई ने आरोप लगाया कि पेपर मिल में अब तक एक दर्जन से अधिक हादसे हो चुके हैं। मगर प्रभावशाली मिल मालिक हर हादसे को दबा देते हैं। मृतक के भाई ने बताया कि सुरेश के परिवार में बीवी किरन सहित चार बेटी और एक बेटा हैं। जिनमें दो बेटियों की शादी हो चुकी है और तीन बच्चे नाबालिग हैं। पीड़ित परिवार ने मृतक के परिवार के भरण-पोषण के लिए मुआवजे की मांग की।

 

Check Also

दस दिवसीय सिलाई प्रशिक्षण कार्यक्रम हुआ सम्पन्न

 फतेहपुर चौरासी/ उन्नाव ।              कौशल विकास मिशन के अंतर्गत …