सीएम फ्लाइंग ने बल्लभगढ़ में छापेमारी कर मिलावटी देसी घी बनाने का किया भंडाफोड़, 52 क्विंटल घी बरामद

 

फरीदाबाद. मिलावटी घी बरामद कर दिखाते पुलिस कर्मी।

  • रिफाइंड व डालडा मिलाकर घी बनाने का आरोप, फूड सप्लाई एंड ड्रग्स विभाग ने सैंपल जांच के लिए भेजा

बल्लभगढ़ के बाजार में नकली घी बेचने का मुख्य केंद्र बन गया है। यहां के मिलावटखोर व्यापारी मिलावटी घी बनाकर उसे बेचकर लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं। त्यौहारी सीजन में ऐसे मिलावटखोर व्यापारी अधिक सक्रिय हो जाते हैं। मिलीवटी घी सस्ता होने के चक्कर में लोग इसे खरीदकर उसका सेवन कर रहे हैं।

ऐसा ही एक मामला सोमवार को बल्लभगढ़ की सुभाष कॉलोनी में आया। सीएम फ्लाइंग, आदर्श नगर थाने की पुलिस और फूड सप्लाई विभाग ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर मिलावटी घी बनाने वाले एक गोदाम का भंडाफोड़ कर आरोपी व्यापारी को हिरासत में ले लिया। टीम ने मौके से करीब 52 क्विंटल मिलावटी घी बरामद किया है।

यही नहीं टीम ने अनाजमंडी में एक मसाले की दुकान पर छापेमारी कर एक्सपायरी डेट के मसाले की नई पैकिंग कर बेचने का मामला भी पकड़ा। टीम इस दुकान के मालिक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। विभाग ने मिलावटी देसी घी और एक्सपायरी डेट मसाले के सैंपल लेकर उन्हें जांच के लिए लैब भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार सीएम फ्लाइंग को सूचना मिली कि त्यौहारी सीजन में कुछ मिलावटखोर व्यापारी खाद्य पदार्थों में मिलावट कर बाजार में बेचकर लोगों की जान से खिलवाड़ कर रहे हैं। सुभाष कॉलोनी में इसी तरह का खेल होता है। इस सूचना पर सीएम फ्लाइंग के इंस्पेक्टर राजेंद्र कुमार ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट नायब तहसीलदार कन्हैया लाल के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया।

इस टीम में फूड सप्लाई एवं ड्रग्स विभाग के अधिकारियों को भी शामिल किया गया। दोपहर करीब 12.30 बजे आदर्शनगर पुलिस के साथ संयुक्त रूप से सुभाष कॉलोनी निवासी राजेंद्र उर्फ राजू के घर छापेमारी की गई। टीम ने जब सुभाष नगर स्थित व्यापारी के घर/गोदाम पर जब छापेमारी की तो वहां मिलावटी देसी घी देखकर हैरान रह गई।

टीम ने मौके से करीब 52 क्विंटल मिलावटी घी, रिफाइंड व डालडा के डिब्बे और अवैध एलपीजी सिलेंडर बरामद किए। पुलिस व्यापारी राजेंद्र उर्फ राजू को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। साथ ही देसी घी के सैंपल लेकर लैब में जांच के लिए भेजकर गोदाम को सील कर दिया है।

एक्सपायरी डेट के मसाले का जखीरा पकड़ा

सीएम फ्लाइंग की टीम ने संयुक्त रूप से अनाजमंडी स्थित एक मसाला कारोबारी दिनेश अग्रवाल की दुकान पर भी छापेमारी की। पुलिस का कहना है कि इनके यहां एक्सपायरी डेट के मसाले मिले हैं जिन्हें नई पैकिंग में भरा जा रहा था।

टीम को आशंका है कि उक्त व्यापारी इन मसालों को नई पैकिंग में कर उसे बाजार भेजा था। उधर व्यापारी का कहना है कि जो मसाले एक्सपायर हो चुके हैं उनके रैपर हटाकर उसे बाहर फेंकने के लिए एकत्र किया गया था। उन्होंने बाजार में बेचने की बात से इंकार किया है।

दो व्यापारियों को लिया हिरासत में: आदर्श नगर थाना प्रभारी मुकेश गिरी ने बताया कि सीएम फ्लाइंग ने संयुक्त रूप से छापेमारी की है। मौके से 52 क्विंटल तैयार मिलावटी घी बरामद किया गया है। 24 डालडा और 25 रिफाइंड के टिन भी मिले हैं। देसी घी बनाने के लिए घरेलू सिलेंडरों का भी इस्तेमाल किया जा रहा था जो गैरकानूनी है।

घी असली है या नकली फूड सप्लाई एंड ड्रग्स विभाग सैंपल लेकर भेज रहा है। रिपोर्ट आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में राजेंद्र उर्फ राजू नामक व्यापारी और एक्सपायरी डेट के मसाले के मामले में दिनेश अग्रवाल नामक व्यापारी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

इस तरह तैयार करते हैं देसी घी: जानकारों की मानें तो इसे बनाने में कोई खास मेहनत या तकनीक की जरूरत नहीं होती। इसमें 60 प्रतिशत वनस्पति व 40 प्रतिशत सोया रिफाइंड होता है। वनस्पति व सोया रिफाइंड को एक साथ गर्म किया जाता है।

इसके बाद इसमें खुशबू के लिए एक तरल परफ्यूम मिला दिया जाता है जिससे देसी घी जैसी खुशबू आती है। फिर इसे ठंडा कर थैलियों में भरकर देसी घी के नाम पर बेचा जाता है। एक किलो इस तरह का नकली घी 120 से 150 रुपए तक में आसानी से मिल जाता है।

 

Check Also

गुंडागर्दी फैलाने वाले लोग नौकरी देने की बात कर रहे: नड्डा

नई दिल्ली/औरंगाबाद : बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के प्रचार का शोर आज शाम 5 …