सिर्फ इस एक वजह से टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली से नफरत करते थे नासिर हुसैन

इंग्लैड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने यह खुलासा किया है कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली हमेशा उन्हें टॉस के लिए इंतजार कराते थे। हालांकि, दोनों काफी अच्छे दोस्त थे, लेकिन सौरव गांगुली के ऐसा करने से वे उनसे चिढ़े रहने लगे। हुसैन ने कहा कि जब मैं गांगुली के खिलाफ खेलता था, तो उनसे नफरत करता था। वे हर बार मुझे टॉस के लिए इंतजार कराते थे।

स्टार स्पोर्ट्स के शो में कहा
सौरव गांगुली के बारे में यह टिप्पणी नासिर हुसैन ने स्टार स्पोर्ट्स के शो में कही। उन्होंने कहा कि यह कोई एक बार की बात नहीं थी। सौरव गांगुली हमेशा ही ऐसा करते थे। इसलिए उनके मन में खेल के दौरान नफरत की भावना पैदा हो जाती थी।

<p><strong>भारत को दी मजबूत टीम</strong><br />
शो में नासिर हुसैन ने सौरव गांगुली की काफी प्रशंसा भी की। उन्होंने सौरव गांगुली को शानदार खिलाड़ी और कप्तान बताया। नासिर हुसैन ने कहा कि सौरव गांगुली ने भारत की टीम को मजबूत बनाने का काम किया। </p>

भारत को दी मजबूत टीम
शो में नासिर हुसैन ने सौरव गांगुली की काफी प्रशंसा भी की। उन्होंने सौरव गांगुली को शानदार खिलाड़ी और कप्तान बताया। नासिर हुसैन ने कहा कि सौरव गांगुली ने भारत की टीम को मजबूत बनाने का काम किया।

<p><strong>भारतीय टीम को बताया विनम्र</strong><br />
शो में नासिर हुसैन ने कहा कि भारतीय टीम काफी विनम्र थी। मिलने पर टीम के खिलाड़ी काफी अच्छे तरीके से पेश आते थे। दूसरी टीम के खिलाड़ियों के लिए उनके मन में सम्मान की भावना थी। वे कभी किसी से कोई गलत बात नहीं कहते थे।<br />
</p>

भारतीय टीम को बताया विनम्र
शो में नासिर हुसैन ने कहा कि भारतीय टीम काफी विनम्र थी। मिलने पर टीम के खिलाड़ी काफी अच्छे तरीके से पेश आते थे। दूसरी टीम के खिलाड़ियों के लिए उनके मन में सम्मान की भावना थी। वे कभी किसी से कोई गलत बात नहीं कहते थे।

<p><strong>गांगुली की टीम से खेलना लड़ाई जैसा</strong><br />
नासिर हुसैन ने कहा कि गांगुली की टीम के साथ खेलना आसान नहीं था। यह एक लड़ाई जैसा होता था। आपको पता होता था कि आप एक लड़ाई लड़ रहे हैं। गांगुली भारतीय दर्शकों और अपने प्रसंशकों के जुनून को समझते थे। </p>

गांगुली की टीम से खेलना लड़ाई जैसा
नासिर हुसैन ने कहा कि गांगुली की टीम के साथ खेलना आसान नहीं था। यह एक लड़ाई जैसा होता था। आपको पता होता था कि आप एक लड़ाई लड़ रहे हैं। गांगुली भारतीय दर्शकों और अपने प्रसंशकों के जुनून को समझते थे।

<p><strong>ताकतवर खिलाड़ी थे सौरव</strong><br />
इंग्लैंड की क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा कि सौरव गांगुली काफी ताकतवर खिलाड़ी थे और अपनी टीम में इसी तरह के क्रिकेटर्स को चुनते थे। मैच में टक्कर जोरदार होती थी, लेकिन मैच के बाद वे बहुत ही अच्छे तरीके से पेश आते थे। सौरव का स्वभाव कुछ ऐसा ही था।</p>

ताकतवर खिलाड़ी थे सौरव
इंग्लैंड की क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा कि सौरव गांगुली काफी ताकतवर खिलाड़ी थे और अपनी टीम में इसी तरह के क्रिकेटर्स को चुनते थे। मैच में टक्कर जोरदार होती थी, लेकिन मैच के बाद वे बहुत ही अच्छे तरीके से पेश आते थे। सौरव का स्वभाव कुछ ऐसा ही था।

<p><strong>देर करते थे सौरव गांगुली</strong><br />
नासिर हुसैन ने कहा कि सौरव गांगुली अक्सर देर करते थे और उन्हें कहना पड़ता था कि अब 10.30 बज गए हैं और हमें टॉस के लिए जाना है। लेकिन टॉस के लिए इंतजार कराना उनकी आदत बन गई थी। <br />
</p>

देर करते थे सौरव गांगुली
नासिर हुसैन ने कहा कि सौरव गांगुली अक्सर देर करते थे और उन्हें कहना पड़ता था कि अब 10.30 बज गए हैं और हमें टॉस के लिए जाना है। लेकिन टॉस के लिए इंतजार कराना उनकी आदत बन गई थी।

<p><strong>साथ करते हैं कमेंट्री</strong><br />
नासिर हुसैन ने कहा कि पिछले 10 साल से मैं उनके साथ कमेंट्री को लेकर काम कर रहा हूं। नासिर हुसैन ने कहा कि सैरव गांगुली बेहतरीन इंसान हैं। वे बेहद शांत रहते हैं, लेकिन अभी भी कमेंट्री के लिए देर कर देते हैं।   </p>

साथ करते हैं कमेंट्री
नासिर हुसैन ने कहा कि पिछले 10 साल से मैं उनके साथ कमेंट्री को लेकर काम कर रहा हूं। नासिर हुसैन ने कहा कि सैरव गांगुली बेहतरीन इंसान हैं। वे बेहद शांत रहते हैं, लेकिन अभी भी कमेंट्री के लिए देर कर देते हैं।

Check Also

WWE में धमाल मचाने वाले कमाला का निधन, हाई ब्‍लड प्रेशर और शुगर के कारण काटने पड़ गए थे दोनों पैर

डब्लूडब्लूई के मशहूर प्लेयर जेम्‍स हैरिस कमाला का निधन हो गया।  वे 70 साल के …