सिंह राशि वालों की परेशानियां होंगी कम, जब सूर्य को बनाएंगे मजबूत, जानें उपाय

Singh Rashi: सिहं राशि को राशि चक्र के अनुसार पांचवी राशि माना गया है. ज्योतिष शास्त्र में सिंह राशि के बारे में बताया गया है कि जिस व्यक्ति की राशि सिंह होती है उसमें राजा के समान गुण पाए जाते हैं. सिंह राशि वालों में नेतृत्व करने के गुण पाए जाते हैं जिस कारण सिंह राशि वाले किसी के अधीन रहना पसंद नहीं करते हैं इन्हें स्वयं आदेश और निर्देश देना अच्छा लगता है.

 

सिंह राशि के जातक अच्छे अधिकारी, बॉस, नेता और सफल बिजनेसमैन होते हैं. ऐसे लोग समूह का नेतृत्व करने की अच्छी क्षमता रखते हैं. सिंह राशि वालों का स्वभाव ऊपर से कठोर और भीतर से कोमल होता है. ये नियम और अनुशासन को मानने वाले होते हैं और सम्मान के साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं करते हैं जिस कारण सिंह राशि वालों को कभी कभी मुश्किलों का भी सामना करना पड़ता है.

 

सिंह राशि वाले देखने में आकर्षक होते हैं. इनका आभामंडल सामने वाले को प्रभावित करता है. सिंह राशि के जातकों की वाणी प्रभावशाली होती है और ये बहुत कम बोलते हैं इन्हें अधिक बोलना पसंद नहीं है. ये बहुत संतुलित बात करना पसंद करते हैं.

 

सिंह राशि का स्वामी सूर्य है
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सिंह राशि का स्वामी सूर्य को माना गया है. सूर्य आत्मा का कारक है. सूर्य को जीवन और ऊर्जा भी माना गया है. सिंह राशि वालों की जन्म कुंडली में यदि सूर्य शुभ और बलशाली अवस्था में विराजमान है तो ऐसे लोगों को यश, वैभव और भरपूर सम्मान प्राप्त होता है. वहीं जब यह अशुभ होता है तो व्यक्ति के सम्मान में कमी आती है, व्यक्ति क्रोधी होता है और जॉब में प्रमोशन आदि की दिक्कतें आती हैं. सूर्य की अशुभता को दूर करना बहुत ही जरूरी होती है. क्योंकि सूर्य के अशुभ होने से मान सम्मान में कमी आने लगती है उच्चाधिकारियों यानि बॉस से संबंध खराब होने लगते हैं और उच्च पद यानि प्रमोशन के तरह तरह की अड़चन का सामना करना पड़ता है.

 

सूर्य की अशुभता को दूर करने के उपाय
सिंह राशि वाले सूर्य को मजबूत बनाने के लिए नित्य सूर्य देव को जल चढ़ाएं. रविवार के दिन सूर्य देव की विशेष पूजा करें. हनुमान चालीसा का पाठ करें और गुड आदि का दान करें. निर्धन व्यक्तिओं की मदद करें. पिता की सेवा करें. ऐसा करने से सूर्य शुभ होते हैं.

Check Also

आचार्य चाणक्य के अनुसार बिस्तर पर ही मौत की निंद सुला सकती हैं ऐसी स्त्रियां

दुनिया उन्हें आचार्य चाणक्य के नाम से जानती है आचार्य ने दुनिया भर को अपने …