संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष चुने गए मालदीव के विदेश मंत्री

माले, 08 जून (हि.स.)। मालदीव्स के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष चुने गए हैं।कुल 191 वोट में से शाहिद को 143 वोट मिले। शाहिद ने अपने आगामी कार्यकाल को ‘आशा की अध्यक्षता’ के रूप में संदर्भित किया है। उन्होंने कहा है कि हमने हमेशा बेहतर कल के लिए कार्य किया है। उन्होंने कहा कि यह भावना, यह आशा – यह मालदीव का तरीका है, मालदीव का लोकाचार है।

दरअसल ऐसा पहली बार हो रहा है जब मालदीव्स के प्रतिनिधि को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अध्यक्ष का पद मिला है। इससे पहले अफगानिस्तान ने सबसे पहले अपनी भागीदारी की घोषणा की थी जबकि मालदीव्स ने साल 2018 में अपने प्रतिनिधि की घोषणा की थी। संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष वोल्कान बोज़किर ने मालदीव के विदेश मंत्री को महासभा अध्यक्ष चुने जाने पर बधाई देते हुए कहा है कि नवनिर्वाचित अध्यक्ष, लघु द्वीपीय देशों के लिए एक मज़बूत आवाज़ रहे हैं। भारत ने नवम्बर 2020 में विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंग्ला की मालदीव यात्रा के दौरान एफएम शाहिद के लिए अपने समर्थन की घोषणा की थी। उस समय भी वह मैदान में एकमात्र उम्मीदवार थे।

यूएनजीए को संबोधित करते हुए अब्दुल्ला शाहिद ने कहा कि इस चुनौतीपूर्ण समय में हम 76वें सत्र की ओर बढ़ रहे हैं। उन्होंने बीमारी, निराशा और तबाही को पिछले साल की चुनौतियां बताया है। उन्होंने कहा कि इस समय हमारा पर्यावरण, हमारा महासागर, हमारा ग्रह पीड़ित है लेकिन हमें आगे बढ़ना जारी रखना होगा।समुदायों का पुनर्निर्माण करना होगा और ग्रह को बचाना होगा। अर्थव्यवस्थाओं को ठीक करना होगा। उन्होंने अध्यक्ष के रूप में अपने कार्यकाल के लिए पांच प्राथमिकता वाले क्षेत्रों को रेखांकित किया, कोरोना प्रतिक्रिया, वैक्सीन इक्विटी, पर्यावरण, मानवाधिकार और लैंगिक समानता।

हिन्दुस्थान समाचार

Check Also

मदुराई: शराब दुकानें खुलने पर खुशी मिली इतनी कि बोतलों की कर डाली पूजा

तमिलनाडु में लंबे लॉकडाउन के बाद शराब दुकानें फिर से खोलने का आदेश दिया गया …