शुगर के तौर पर इस्तेमाल की जा रही है ये ख़ास चीज, आइये जाने !

वैसे तो मीठा खाना सभी को पसंद होता है। लेकिन क्या आप जानते है की मीठा खाने से आपकी सेहत पर नकारात्मक असर भी डालता है। और ज्यादा मीठा खाने से आप अपना वजन भी संतुलित नहीं रख पाते। इसलिए अगर आपसे कहा जाए कि अपनी डाइट से किसी एक चीज को तुरंत निकाल बाहर करें, तो निःसंदेह वह शुगर ही होगा। ऐसे में बहुत जरूरी है कि आप अपनी डाइट में शुगर के विकल्प को तलाशें। हाल के सालों में स्टीविया, शुगर का ही एक विकल्प के रूप में सामने आया है। हालांकि यह ग्रॉसरी शॉप  में आसानी से उपलब्ध नहीं है। लेकिन अगर आप अपने स्वास्थ्य के प्रति जरा भी सजग हैं तो स्टीविया खोजना आपके लिए ज्याद मुश्किल नहीं होगा।

क्या है स्टीविया ?
वास्तव में स्टीविया एक हर्ब है जो कि स्टीविया रेबोडियाना नामक पौधे से निकलता है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि एक टेबल स्पून की तुलना में यह 200 गुना ज्यादा मीठा है। लेकिन इसमें कैलोरी बिल्कुल नहीं है। स्टीविया इन दिनों पावडर और टैबलेट जैसे अलग-अलग रूपों में उपलब्ध हैं। आपकी सहज उपयोगिता के लिए स्टीविया छोटे-छोटे सैशे में भी पाया जाता है। इसे आप चाहें तो अपने साथ कैरी कर सकते हैं। इसे आप चाय या काॅफी में डालकर आसानी से पी सकते हैं। आमतौर पर आप स्टीविया को किस रूप में सेवन कर रहे हैं, यह ब्रांड पर निर्भर करता है। सामान्यतः एक कप चाय के लिए छोटी सी स्टीविया पिल ही काफी होती है।

आइये जानते है की स्टीविया कैसे करता है मदद…. 
एक टेबल स्पून शुगर में 50 कैलोरी पाई जाती है, जो कि आपके इंसुलिन में वृद्धि करती है। सामान्यतः एक व्यक्ति एक दिन में 10 से 15 टेबल स्पून शुगर कंज्यूम कर लेता है। शुगर के स्रोत स्नैक्स से लेकर कई अन्य खाद्य पदार्थ भी हो सकते हैं। लेकिन अगर आप शुगर के बजाय स्टीविया को विकल्प के तौर पर चुनते हैं तो इसका मतलब है कि आप एक दिन में 700 से 750 तक कैलोरी लेने से बच जाते हैं। स्टीविया के सेवन से न तो आपके कैलोरी में वृद्धि होगी और न ही आपका वजन बढ़ेगा। इसके उलट आपके वजन में कमी साफ नजर आने लगेगा।

स्टीविया आपके स्वास्थ्य के लिए सही है या नहीं?
यह सवाल उठना लाजिमी है कि स्टीविया आपके स्वास्थ्य के लिए सही है या नहीं? सही मायनों में देखा जाए तो स्टीविया का स्वास्थ्य पर सकारात्मक असर पड़ता है। अगर आप इसे लाॅन्ग टर्म भी इस्तेमाल करते हैं, तो भी इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं है। ऐसा एक अध्ययन से स्पष्ट हो चुका है।

Check Also

जोड़ों के दर्द में फायदेमंद है पपीते की चाय का सेवन, जानें बनाने की विधि

हर व्यक्ति किसी न किसी सेहत संबंधी समस्या से परेशान है। इन्हीं समस्याओं में एक …