Home / धर्म / शिव रहेंगे प्रसन्न,सावन माह में जरुर पालन करें इन नियमों को

शिव रहेंगे प्रसन्न,सावन माह में जरुर पालन करें इन नियमों को

बाबा भोलेनाथ को समर्पित सावन का यह पवित्र माह शुरु हो चुका है। जिसमें हर तरह सिर्फ भोले की जयकार ही सुनाई देती है। हर कोई शिवभक्ति में लीन होता है। पुराणों के अनुसार इस माह भगवान शिव की पूजा करने से दोगुना फल मिलता है। इस बार 4 सोमवार पड़ रहे हैं। ऐसी मान्‍यता है का सोमवार को ही देवी पार्वती ने शिव को पाने के लिए विशेष व्रत रखा था इसलिए ऐसी मान्‍यता है कि उपासक अगर सावन मास में सोमवार को शिव का व्रत रखते हुए सोमवार को उपवास रखते हैं तो शिव प्रसन्‍न होते हैं और वां‍छित फल मिलता है। माना जाता है कि इस पवित्र माह सावन में ऐसे कई काम है जो नहीं करना चाहिए। जानें ऐसे ही कुछ कामों के बारें में जिन्हें करने से बचना चाहिए।

1. बुरे विचार से बचना चाहिए, अन्यथा शिवजी की पूजा में मन नहीं लग पाएगा।

2. सावन के इस पावन माह में बुजुर्ग व्यक्ति, गुरु, भाई-बहन, जीवन साथी, माता-पिता, मित्र और ज्ञानी लोगों का अपमान न करें। शिवजी ऐसे लोगों से प्रसन्न नहीं होते हैं।

3. सुबह जल्दी जागने की कोशिश करें। अगर देर तक सोते रहेंगे तो इससे आलस्य बढ़ेगा। सुबह जल्दी उठने से वातावरण से स्वास्थ्य लाभ भी मिलते हैं।

4. सावन के महीने में इंसान को मांस के सेवन से दूर रहने को कहा जाता है, इसके पीछे बहुत सारे धार्मिक कारण हैं लेकिन इसका वैज्ञानिक कारण भी बिल्कुल सटिक है। इसके अनुसार यह मौसम बारिश का होता है, इस दौरान वातावरण में काफी कीड़े-मकोड़े सक्रिय हो जाते हैं जो कि जानवरों के शरीर पर भी पाये जाते हैं, जिनका सेवन करना बीमारियों को दावत देना होता है।

5. व्यक्तियों को कहा जाता है कि वो इस दौरान ब्रहमचर्य का पालन करें और शारीरिक सुख ना भोंगे क्योंकि इस दौरान गर्भधारण की संभावना भी होती है। वैज्ञानिक भी इस समय को बच्चे के लिए सही नहीं मानते हैं क्योंकि इस दौरान लड़कियां और महिलाएं काफी पूजा-पाठ और व्रत करती हैं जिसके कारण उनकी सेहत पर असर पड़ता है, वो आंतरिक रूप से मजबूत नहीं हो पाती हैं।

6. शिव जी का दूध से अभिषेक करने की परंपरा शुरू हुई होगी। वैज्ञानिक मत के अनुसार इन दिनों दूध वात बढ़ाने का काम करता है। अगर दूध का सेवन करना हो तब खूब उबालकर  पिएं।

7. शास्त्रों में बताया गया है कि सावन के माह में बैगन खाने से बचना चाहिएय़। इसके अलाव द्वादशी, चतुर्दशी और कार्तिक मास को भी इसे खाने की मनाही है।

Loading...

Check Also

25 अगस्त की रात बनेगी बात, इन राशियों को मिलेगा लव पार्टनर का साथ

डेस्क: ज्योतिष शास्त्र की बात करें तो 25 अगस्त की रात राशिफल में शामिल कुछ ...