शाबाश बेटी:कलेक्टर की गाड़ी के सामने बैठी छात्रा; रेग्युलर की जगह 33 छात्राओं को प्राइवेट की मार्कशीट देने पर जताई नाराजगी

बैतूल जिले के भैसदेही में जन समस्या निवारण शिविर में शामिल होने के बाद कलेक्टर जाने लगे तो उनकी गाड़ी के सामने एक छात्रा बैठ गई। कलेक्टर ने गाड़ी रोकी और इस छात्रा की समस्या जानी। छात्रा ने लिखित में पूरे मामले की जानकारी दी। कलेक्टर ने 10 दिन में समस्या के समाधान का आश्वासन दिया है।

भैसदेही शासकीय कन्या स्कूल की 12वीं की 33 छात्राओं को रेग्यूलर की जगह प्राइवेट की मार्कशीट देने से छात्राओं में नाराजगी है। इस मांग को लेकर मंगलवार को कलेक्टर अमनवीर सिंह बैस को अपनी समस्या बताई। जब कलेक्टर जन समस्या निवारण शिविर से बाहर निकले तो एक छात्रा पूजा मालवीय ने उन्हें बताया कि 2019 में कन्या स्कूल की 33 छात्राओं ने रेग्यूलर परीक्षा दी थी लेकिन मार्कशीट प्राइवेट की आई है। कलेक्टर ने छात्रा की समस्या 10 दिन के अंदर समाधान करने का आश्वासन दिया।

कलेक्टर के सामने समस्या लिखती छात्रा

कलेक्टर के सामने समस्या लिखती छात्रा

बीईओ जीसी सिंह ने बताया माध्यमिक शिक्षा मंडल के नियमानुसार जिन बच्चों की उपस्थिति 65 प्रतिशत से कम है, उनको प्राइवेट कर दिया जाता है। इसीलिए इन छात्राओं की उपस्थिति कम होने के कारण प्राइवेट कर दिया है।

 

Check Also

संत रविदास युगों-युगों तक हमें प्रेरित करते रहेंगे: नरेन्द्र मोदी

नई दिल्ली :  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संत रविदास की जयंती पर उन्हें नमन किया …