सिरमौर : शादी का दिन हो और बारात ले जाने में कठिनाई हो रही हो तो यह दूल्हे के लिए बड़ी चुनौती भरा काम हो सकता है लेकिन हिमाचल प्रदेश के एक दूल्हे ने कमाल कर दिया है। यहां भारी बर्फबारी के चलते रास्ते ब्लॉक हो गए थे और उसे बारात लेकर दुल्हन के यहां पहुंचना था। इसके लिए दूल्हे ने गजब हल निकाला और जेसीबी लेकर दुल्हन के घर बारात लेकर पहुंच गया। इसके बाद वह जेसीबी से ही अपनी दुल्हन को वापस लेकर लौटा।

दरअसल, यह घटना हिमाचल प्रदेश के सिरमौर की है। द ट्रिब्यून की एक रिपोर्ट के मुताबिक यहां स्थित डिग्री कॉलेज संगड़ाह के साथ लगते गांव जावगा से सौंफर गांव बारात जाने वाली थी। लेकिन बर्फबारी से रास्ता बंद था। संगड़ाह से आठ किलोमीटर तक रोड बंद थी। पहले तो जेसीबी से बर्फ हटाने की कोशिश की गई, मगर जब बात नहीं बनी, तो जेसीबी में ही बाराती चले दिए।

बारात जाते समय भी दो जेसीबी मशीनों की व्यवस्था करनी पड़ी और तब जाकर बारात पहुंची। दूल्हे के पिता जगत सिंह ने बताया कि आगे जाने के लिए जेसीबी मशीन का इंतजाम किया गया। जेसीबी में दूल्हा विजय प्रकाश, भाई सुरेंद्र, पिता जगत सिंह, भागचंद व फोटोग्राफर सवार होकर 30 किलोमीटर तक का सफर तय कर रतवा गांव पहुंचे। उन्होंने बताया कि बारात पहुंचने के बाद वहां विवाह की सारी रस्में निभाईं और दुल्हन को जेसीबी से ही लेकर वापस लौटे। लौटते समय दूल्‍हा और दुल्‍हन ने 30 किलोमीटर का सफर जेसीबी मशीन में किया।