व्रतियों ने उगते सूर्य को दिया अर्घ्य, बादलों के चलते करना पड़ा इंतजार; कोरोना को जारी गाइडलाइन का नहीं हुआ पालन

 

व्रतियों को सूर्योदय  के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ा।

  • राजधानी रांची के 70 से अधिक घाटों पर छठ व्रतियों ने उगते सूर्य को अर्घ्य दिया

शनिवार को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही चार दिवसीय महापर्व छठ संपन्न हो गया। राजधानी रांची के 70 से अधिक घाटों पर छठ व्रतियों ने उगते सूर्य को अर्घ्य दिया। इसके अलावा इस बार बड़ी संख्या में व्रतियों ने अपने घरों और अपार्टमेंट की छतों पर भी अर्घ्य दिया गया। सुबह के अंधेरे में ही लोगों ने घाटों पर पहुंचना शुरू कर दिया था। हालांकि बादलों के चलते लोगों को समय से भगवान भास्कर का दर्शन नहीं हो सका।

अर्घ्य के बाद परिवार के साथ व्रती।

अर्घ्य के बाद परिवार के साथ व्रती।

मौसम विभाग से जारी समय के मुताबिक दिया अर्घ्य
व्रतियों को सूर्योदय के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ा। पंचांगों के अनुसार सूर्योदय का समय तो सुबह 6 बजकर 11 मिनट का था, लेकिन मौसम विभाग ने आसमान में बादल छाने की भी बात कही थी, जिस वजह से व्रतियों का इंतजार थोड़ा बढ़ गया। हालांकि बाद में लोगों ने मौसम विभाग की ओर से जारी सूर्योदय के समय 6 बजकर 05 मिनट पर अर्घ्य दिया।

प्रशासन के एक भी गाइडलाइन का नहीं हुआ पालन
जिला प्रशासन द्वारा कोरोना के खतरे को देखते हुए छठ घाटों पर आने-जाने के लिए विशेष गाइडलाइन जारी की गई थी। लेकिन शुक्रवार को सांध्य अर्घ्य की ही तरह सुबह भी किसी गाइडलाइन का पालन होता नहीं दिखा। लोग मास्क पहने तो नजर आ रहे हैं लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होता नहीं दिखा। बच्चे-बुजुर्ग भी घाटों पर आए, साथ में आतिशबाजी भी खूब हुई। इस दौरान यहां प्रशासन की ओर से तो सोशल डिसटेंसिंग की तैयारी की गई थी, लेकिन लोगों की भीड़ के बाद न ही सोशल डिस्टेंसिंग रही और न ही लोग मास्क का ख्याल रख रहे थे। लोग बस भगवान भास्कर को अर्घ्य देने में व्यस्त दिखे। छठ घाटों को नगर निगम और पूजा समितियों को ओर सजाया गया था।

छठ घाट पर उमड़ी भीड़।

छठ घाट पर उमड़ी भीड़।

घाटों को किया गया सैनिटाइज
सुबह के अर्घ्य से पहले निगम के कर्मचारियों ने सभी घाट को सैनिटाइज किया। साथ ही घाट पर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के हाथ को सैनिटाइज कराने के लिए छठ घाट पर निगम के कर्मचारी मौजूद रहे। घाटों को निगम की तरफ से सैनिटाइज किया जा रहा थ। इसके लिए सभी घाटों पर अलग से कर्मचारी की प्रतिनियुक्ति की गई थी।

ड्रोन कैमरे से रखी जा रही थी नजर।

ड्रोन कैमरे से रखी जा रही थी नजर।

 

Check Also

आज से बिना मास्क पैदल लोगों से सख्ती करेगी पुलिस, स्पेशल टीम कराएगी कोरोना टेस्ट, इसे लेकर मेयर ने 28 को बैठक बुलाई है

  मजिस्ट्रेट बोले- बिना मास्क सड़क पर नहीं निकलें, सब्जी-फल विक्रेताओं के बीच चलेगा जागरूकता …