वो विकेटकीपर जो भारत में पनपा, 4 शहरों में खत्‍म हुआ करियर, मोटी कलाई वाला विस्‍फोटक खिलाड़ी है इसका भतीजा

ये वो खिलाड़ी है जिसका पूरा टेस्‍ट करियर भारत के चार शहरों में खत्‍म हो गया. ये चार शहर थे चेन्‍नई, कोलकाता, मुंबई और बैंगलोर. इस बल्‍लेबाज का करियर भारत में पनपा और यहीं पर खत्‍म भी हो गया. इस खिलाड़ी की पहचान विकेटकीपर की रही, लेकिन जब राष्‍ट्रीय टीम से खेले तो बतौर बल्‍लेबाज ही खेलते नजर आए. ये वो खिलाड़ी है जिसके मोटी कलाई वाले भतीजे ने क्रिकेट की दुनिया में खूब नाम कमाया. ये और बात है कि भतीजे ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट खेलने के लिए दूसरे देश की टीम चुनी. और आज हम इस खिलाड़ी के बारे में इसलिए आपको बताने जा रहे हैं क्‍योंकि आज यानी 15 जून को इनका जन्‍मदिन है.

इंग्‍लैंड (England Cricket Team) के बल्‍लेबाज और लीसेस्‍टरशायर के विकेटकीपर रोजर टोचार्ड (Roger Tolchard) का जन्‍म 15 जून 1946 को हुआ था. यूं तो उन्‍होंने घरेलू क्रिकेट में विकेटकीपर बल्‍लेबाज के तौर पर मैदान में कदम रखा लेकिन जब 1976-77 में भारत के दौरे पर आए तो इंग्‍लैंड के स्‍पेशलिस्‍ट बल्‍लेबाज के तौर पर खेले. आज के कोलकाता और तब के कलकत्‍ता में अपने टेस्‍ट करियर का आगाज करते हुए पांच घंटे की बल्‍लेबाजी में 67 रन बनाए. इस दौरे पर उन्‍होंने चार टेस्‍ट मैच खेले और यही उनका पूरा टेस्‍ट करियर भी रहा. और इन चारों में से किसी भी टेस्‍ट में उन्‍होंने विकेटकीपिंग नहीं की.

इंग्‍लैंड के लिए खेले सिर्फ 4 टेस्‍ट और 1 वनडे

रोजर टोचार्ड ने इन चार टेस्‍ट में 25.80 की औसत से 129 रन बनाए. इसमें उन्‍होंने एक अर्धशतक लगाया. वहीं टेस्‍ट के अलावा उन्‍होंने इंग्‍लैंड के लिए एक वनडे मैच भी खेला, जिसमें बल्‍लेबाजी का मौका नहीं मिला. रोजर टोचार्ड ने अपने करियर में 483 प्रथम श्रेणी मैच भी खेले, जिनमें 31.13 के ओसत से 15288 रन बनाए. इसमें 12 शतक और 86 अर्धशतकों की भी मौजूदगी रही. लिस्‍ट ए क्रिकेट में उन्‍होंने 310 मुकाबले खेले. इनमें 27.64 की औसत से 6055 रन बनाए. लिस्‍ट ए में 2 शतक और 28 अर्धशतक उनके बल्‍ले से निकले. एक दिलचस्‍प बात है कि न्‍यूजीलैंड के लिए 16 टेस्‍ट और 87 वनडे मैच खेलने वाले विस्‍फोटक बल्‍लेबाज रोजर टूज इंग्‍लैंड के इसी बल्‍लेबाज रोजर टोचार्ड के भतीजे हैं. रोजर टूज को क्रिकेट खेलने के दिनों में उनकी मोटी कलाई के लिए जाना जाता था.

Check Also

भारतीय टीम ने रचा इतिहास, 41 साल बाद हॉकी में जीता मेडल

टोक्यो:  टोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने 41 साल के इंतजार खत्म करते हुए …