विश्व के पांचवे सबसे बड़े निर्यातक चीन के दोषपूर्ण सैन्य उपकरणों ने तकनीक पर उठाए सवाल

अक्सर चीन अपने निर्मित सैन्य उपकरण अन्य देशों को निर्यात करता है जिनसे वो सुरक्षा करते है। यह भी हम सभी जानते हैं कि चीन विश्व स्तर पर अमेरिका, रूस, फ्रांस और जर्मनी के बाद हथियारों का पांचवां सबसे बड़ा निर्यातक है, लेकिन विभिन्न देशों को बेचे जाने वाले उसके ज्यादातर उपकरण खराब हैं। खुफिया एजेंसियों के सूत्रों ने शुक्रवार को यह बात कही।

पांचवां सबसे बड़े निर्यातक चीन 

वर्ष 2015-19 में दुनिया के पांचवें सबसे बड़े हथियार निर्यातक चीन की अपने शीर्ष ग्राहकों के साथ अपने बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव भागीदारों सहित कुल वैश्विक हथियारों के निर्यात की 5.5 प्रतिशत हिस्सादारी है। चीन अब खुद को रूस के विकल्प के रूप में प्रस्तुत करता है।

पाकिस्तान चीन से प्रमुख तौर पर हथियार खरीदता है। वर्ष 2015-19 के बीच चीन ने अपने निर्यात के 35 प्रतिशत अकेले पाकिस्तान को हथियार बेचे हैं।

सैन्य उपकरणों ने तकनीक पर उठाए सवाल

खुफिया एजेंसियों ने हाल ही में एक रिपोर्ट तैयार की है, जिसमें यह बताया गया है कि बीजिंग ने एशिया, मध्य पूर्व और अफ्रीका में मित्र राष्ट्रों को दोषपूर्ण उपकरण किस प्रकार से धकेले हैं।

अगर बांग्लादेश की बात करें तो चीन ने 1970 युग के दो अप्रचलित और बेकार मिंग क्लास टाइप 035जी पनडुब्बियों को 2017 में बांग्लादेश को बेच डाला। चीन ने प्रत्येक पनडुब्बी को 10 करोड़ में धकेल दिया।

खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है, इन पनडुब्बियों की हालत इतनी खराब है कि वे कथित तौर पर काफी समय तक बेकार पड़ी रहती हैं।

अप्रैल 2003 में, पीएलए नेवी मिंग क्लास पनडुब्बी-361 को में खराबी आ गई थी, जिससे इसके सभी 70 चालक दल के सदस्य मारे गए थे।

Check Also

संयुक्त राष्ट्र के मंच पर भारत ने पाकिस्तान को फिर लगाई लताड़, दुनिया को दिखाया पड़ोसी का सच

अंतरराष्ट्रीय मंचों पर अक्सर मुंह की खाने वाले पाकिस्तान (Pakistan) को भारत (India) ने एक …