विराट कोहली के बर्ताव पर पूर्व चयनकर्ता का खुलासा, बताया- लोगों को वो घमंडी और गर्म मिजाज लगते हैं

भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के मैदान में व्यवहार की अक्सर चर्चा होती रहती है. अपने आक्रामक अंदाज के लिए मशहूर कोहली के इस रूप को कई लोग पसंद करते हैं, जबकि कई बार उनके इस अंदाज की आलोचना भी होती है. मैच के दौरान अपने व्यवहार के कारण कोहली को लेकर छवि बनती है कि वह हमेशा गुस्से में रहते हैं और सभी के साथ आक्रामक रुख अपनाते हैं, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के पूर्व चयनकर्ता सरनदीप सिंह (Sarandeep Singh) ने इन्हें गलत बताया है. सरनदीप सिंह ने कहा है कि मैदान से बाहर कोहली बेहद सौम्य रहते हैं. इसके साथ ही सरनदीप ने सेलेक्शन मीटिंग में भी कोहली के बर्ताव पर खुलासा किया है.

मैच के दौरान बैटिंग या फील्डिंग करते हुए विराट कोहली अक्सर विरोधी टीम पर हावी होने की कोशिश करते हैं. बैटिंग करते हुए वह रन बनाकर विरोधी गेंदबाजों और फील्डरों को पस्त करते हैं, तो अपनी टीम की गेंदबाजी के दौरान वह अपने आक्रामक व्यवहार से दूसरी टीमों के पसीने छुड़ाने की कोशिश करते हैं. इसके चलते ही कई बार वह क्रिकेट विशेषज्ञों और फैंस के निशाने पर रहते हैं, जिनका मानना है कि कोहली मैदान बेहद गुस्सैल हैं और उनका व्यवहार अच्छा नहीं है.

मैदान में जैसे दिखते हैं, असल में उससे उलट

कुछ महीने पहले तक भारतीय क्रिकेट टीम के चयनकर्ता रहे सरनदीप सिंह ने इन सभी धारणाओं को खारिज किया है कि कोहली मैदान से बाहर भी उसी तरह आक्रामक रहते हैं. सरनदीप ने कहा कि लोगों को लगता है कि विराट घमंडी हैं, लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. स्पोर्ट्सकीड़ा के साथ बात करते हुए पूर्व भारतीय स्पिनर ने कहा,

“विराट एक अच्छे श्रोता हैं. मुझे नहीं पता लोग उनके बारे में क्या सोचते हैं. जब आप उन्हें मैच में देखते हैं, तो वह हमेशा बैटिंग या फील्डिंग के वक्त ऊर्जा से भरे रहते हैं. इसलिए ऐसा लगता है कि वह गर्म मिजाज और घमंडी हैं और किसी की नहीं सुनते. लेकिन ऐसा नहीं है. वह मैदान पर जितने आक्रामक हैं, असल में उतने ही सरल और जमीन से जुड़े इंसान हैं.”

सरनदीप ने साथ ही बताया कि सेलेक्शन मीटिंग के दौरान विराट का व्यवहार कैसा रहता है. उन्होंने कहा, “सेलेक्शन मीटिंग में भी वह बेहद सौम्य रहते थे. वह हमेशा सबकी बातें सुनते थे और फिर अंतिम नतीजे पर पहुंचते थे.”

सभी खिलाड़ी करते हैं विराट का सम्मान

पूर्व भारतीय स्पिनर ने ये भी कहा कि बाकी खिलाड़ी भी विराट का बेहद सम्मान करते हैं. सरनदीप ने कहा, “उनके घर में कोई नौकर नहीं है. वह और उनकी पत्नी खुद ही लोगों को खाना देते हैं. आपको और क्या चाहिए? विराट हमेशा आपके साथ बैठते हैं, बात करते हैं और आपके साथ डिनर के लिए जाते हैं. सभी खिलाड़ियों के मन में उनके लिए सम्मान है.”

Check Also

ओलिंपिक में पहली बार महिला-पुरुष बराबर:वुमन्स डे पर IOC ने कहा- टोक्यो गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी में हर देश से 1-1 महिला-पुरुष झंडा लेकर चलेंगे

  इंडियन शूटर मनु भाकर टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर चुकी हैं। -फाइल फोटो …