Home / धर्म / वास्तु के अनुसार इस दिशा में बैठकर काम करने से खुलते हैं किस्मत के ताले

वास्तु के अनुसार इस दिशा में बैठकर काम करने से खुलते हैं किस्मत के ताले

हर इंसान अपने कार्यजीवन में सफलता और उन्‍नति चाहता है। कहा जाता है कि कार्यक्षेत्र में सफलता का संबंध वास्‍तु से होता है। यानी हम किस दिशा में बैठकर काम कर रहे हैं, इसका वास्‍तु के जगत में बहुत महत्‍व है।

वास्‍तु के जानकारों का कहना है कि हर वस्‍तु यदि वास्‍तु के अनुसार जमी हो तो सफलता मिलती है। वहीं, वास्‍तु शास्‍त्र में विश्‍वास करने वालों की भी कमी नहीं है। आइये हम आपको कार्यस्‍थल से जुड़ी कुछ वास्‍तु की धारणाओं के बारे में बताते हैं।

आप जहां बैठकर काम कर रहे हैं, वहां के आसपास की ऊर्जा और वातावरण सकारात्‍मक होना चाहिये। इस पर प्रगति निर्भर करती है।

मान्‍यता है कि कार्यालय में काम करते समय आपका मुख सदा उत्‍तर की दिशा की ओर होना चाहिये। ऐसा होने पर आपके करियर की बाधाएं दूर हो सकती हैं।
करियर के संबंध में कुछ वास्‍तु सलाहकारों का मानना है कि उत्‍तर दिशा सफलता का पर्याय होती है। इसलिए जब भी आप इसी दिशा को केंद्रित करके कोई काम शुरू करते हैं तो आपको अवश्‍य सफलता की प्राप्ति होती है।
यह नियम कार्यस्‍थल के अलावा घर पर भी लागू होता है। आपके ड्राइंग रूम की सजावट को ही लीजिये। यदि आपने अपना टेलीविजन सेट ऐसे स्‍थान पर लगाया है जहां आपका चेहरा उत्‍तर की ओर रहे तो यह शुभ माना जाता है।
Loading...

Check Also

20 नवम्बर और 21 नवम्बर को पूरे होंगे अधूरे सपने, इन राशि के लोगों के

वृषभ, मिथुन कई वर्षों से अटके हुए कार्य वापस प्रगति पर आएंगे भगवान गणेश गजानन ...