वाराणसी:39 GTC की पासिंग आउट परेड में 94 रिक्रूटों ने लिया देश रक्षा का शपथ, नेपाली संस्कृति के अनुसार खुखरी भेंट की गई

 

जवानों के परिजन भी पासिंग आउट परेड में शामिल होते हैं। - Dainik Bhaskar

जवानों के परिजन भी पासिंग आउट परेड में शामिल होते हैं।

  • 42 महीनों की कठिन प्रशिक्षण के बाद जवानों को देश सेवा का मौका मिलता हैं

39 GTC (गोरखा ट्रेनिंग सेंटर ) के कसम परेड ग्राउंड में मंगलवार को 42 सप्ताह के कठिन प्रशिक्षण के बाद 94 जवानों को विधिवत भारतीय सेना में शामिल कर लिया गया। दंड पाल अधिकारी द्वारा पवित्र गीता पर हाथ रखवा कर भारतीय संविधान के अनुसार मातृभूमि की रक्षा की शपथ दिलाई गई। इस दौरान प्रशिक्षण के दौरान बेहतर ट्रेनिंग करने वाले जवानों को पुरस्कार भी दिया गया।

जम्मू कश्मीर, पंजाब, असम समेत देश अन्य हिस्सों में जवान देश की रक्षा करेंगे

गोरखा जवानों को ट्रेनिंग के बाद भारतीय सेना में शामिल कर लिया गया हैं। अनुशासन और शारीरिक क्षमता ट्रेनिंग का मुख्य हिस्सा होता हैं। नेपाल के परंपरागत हथियार खुखरी को भेंट किया गया। जवान जम्मू, हिमाचल, पंजाब समेत देश के कई राज्यों में देश रक्षा के लिए तैनात किए जाएंगे। बेस्ट फायरिंग का सम्मान अमित बहादुर और बेस्ट ड्रिल का सम्मान काशी शाही को मिला।

सेना के अधिकारियों ने जवानों को कहा आप सभी मौसम और परिस्थितियों में अपने आप को ढाल सके यही आपकी ताकत हैं। वही जवानों देश रक्षा में जान न्योछावर को भी कसम खाया। अगर जरूरत पड़ी तो वो कभी पीछे नही हटेंगे। वही देश के लिए शहीद जवानों श्रद्धांजलि भी दिया गया।

 

Check Also

पीलीभीत जिले की 11 ग्राम पंचायतों में चुनाव नहीं लड़ सकेंगे बंगाली समुदाय के लोग

पीलीभीत: यूपी पंचायत चुनाव में आरक्षण सूची जारी हो गई है। इस समय आपत्तियां ली …