लौट रहा है कोरोना:बिहार में भी सख्ती बढ़ी, ज्यादा कोरोना संक्रमण वाले क्षेत्रों में लॉकडाउन संभव

प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar

प्रतीकात्मक फोटो।

  • उत्सव और आयोजनों की अनुमति देने में कड़ा रुख अपनाएगा प्रशासन

महाराष्ट्र समेत दूसरे राज्यों में कोरोना संक्रमण के बढ़ते केस के मद्देनजर बिहार सरकार अलर्ट हो गई है। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक के बाद गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी और डीजीपी एसके सिंघल ने आदेश जारी कर कहा है कि संक्रमण की शृंखला को तोड़ने के लिए अत्यधिक संक्रमण वाले क्षेत्रों या माइक्रो कंटेनमेंट जोन को चिह्नित कर वहां सीमित अवधि का लॉकडाउन लगाया जाए।

सरकार ने कहा है कि सभी डीएम व एसपी कोरान नियंत्रण गाइडलाइन का पालन कराएंगे। भीड़-भाड़ वाले स्थलों जैसे फूड कोर्ट, जलपान गृह, सब्जी मंडी, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, रेहड़ी आदि पर व्यक्तियों के जमावड़े को नियंत्रित करने के लिए अधिक से अधिक पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति सुनिश्चित की जाए। जिला प्रशासन किसी भी प्रकार के उत्सव अथवा ऐसे अन्य आयोजन जिसमें अधिक लोगों के इकट्‌ठा होने की संभावना हो, के लिए दिन के समय में भी जब तक अत्यावश्यक न हो अनुमति प्रदान नहीं करेगा।

महाराष्ट्र का अमरावती 7 दिन लॉक, पुणे में स्कूल व काॅलेज बंद

पुणे/मुंबई| महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप बढ़ रहा है। 15 दिन में रोज मिलने वाले कोरोना मरीजों की संख्या तीन गुनी हो गई है। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा- ‘अगले एक हफ्ते तक सियासी रैलियों, धार्मिक आयोजनों, सामाजिक सभाओं आदि पर रोक रहेगी।’ वहीं, दूसरी ओर अमरावती जिले में सोमवार रात 8 बजे से एक हफ्ते का संपूर्ण लॉकडाउन लगेगा। पुणे और नासिक जिले में भी सभी स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान 28 फरवरी तक बंद रहेंगे।

ऐसे हालात को रोकना आपके हाथ में, वैक्सीन का दूसरा डोज जरूर लगवाएं

कोरोना वैक्सीन का पहला डोज में लेने में बिहार, देश में अव्वल नंबर पर है। राज्य में, कोविन पोर्टल पर रजिस्टर्ड कुल स्वास्थ्यकर्मियों में से 85 फीसदी (522977) को वैक्सीन लग चुका है। ये सब आराम से अपना काम कर रहे हैं, रोजमर्रा की जिंदगी जी रहे हैं।

सरकार, उसका सिस्टम दूसरे डोज को बेहद जरूरी बताते हुए इसकी रफ्तार को उछाल देने में जुटा है। लोग और प्रेरित हों, इस मकसद से शनिवार को स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत, राज्य स्वास्थ्य समिति के ईडी मनोज कुमार और संयुक्त सचिव अनिल कुमार आदि ने वैक्सीन का दूसरा डोज लिया।

प्रत्यय अमृत ने कहा कि कोरोना वैक्सीन का फायदा तभी होगा, जब इसका दूसरा डोज लिया जाएगा। दुनिया भर में वैक्सीनेशन से जुड़ी भ्रांतियां बेकार की साबित हुईं हैं। इस बारे में ज्यादा कुछ बताने की इसलिए भी जरूरत नहीं कि पहला डोज लिए 522977 लोग आराम से अपना काम कर रहे हैं।

नीतीश बोले-अगले माह से सबकाे टीका, दूसरा डोज बिना सब बेकार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना को हराने के लिए बिहार में बहुत काम हो रहा है। 10 लाख की आबादी पर देश में औसतन कोरोना जांच हो रही है, उससे 21 हजार से अधिक जांच बिहार में हो रही है। वैक्सीनेशन शुरू हो गया। अगले माह से सभी का वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा। 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और 50 वर्ष से कम उम्र के गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों का टीकाकरण कराया जाएगा। मैं सभी से कहूंगा कि वे टीका जरूर लगवाएं। दोनों डोज। कोरोना से सचेत रहना है, सजग रहना है।

 

Check Also

महिला दिवस पर 3 सगी बहनों को डंपर ने रौंदा:किशनगंज में बाइक पर पत्नी और दो सालियों को लेकर जा रहा युवक भी गंभीर, डंपर चालक फरार

  घटनास्थल पर लगी लोगों की भीड़। घटना ठाकुरगंज -खारूदाह मार्ग पर निश्चितपुर गांव के …