रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर 7 लाख से ज्यादा हड़पे, मुकदमा

हरिद्वार, 25 जनवरी (हि.स.)। लक्सर कोतवाली के मुंडाखेड़ा कलां गांव निवासी प्रवीण सैनी ने पुलिस क्षेत्राधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर बताया कि उसका उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जनपद के नागल स्थित एक धार्मिक स्थल पर आना जाना था। यहां उसका परिचय रोहित निवासी बिन्ना खेड़ी थाना नकुड़ जनपद सहारनपुर के साथ हुआ था। इसके बाद उनका मिलना जुलना होने लगा।

फरवरी 2018 में रेलवे विभाग में नौकरियां निकलने पर रोहित ने उसे बताया कि उसकी सेटिंग है। वह चाहे तो उसके बच्चों को रेलवे में नौकरी दिला सकता है। इसके लिए उसने उसकी फोन पर किसी व्यक्ति से बात भी कराई थी। उस पर भरोसा करते हुए उसने अपनी बेटी और एक रिश्तेदार युवक की नौकरी लगवाने की बात कही। रोहित ने दोनों की नौकरी के लिए चार-चार लाख रुपये मांगे।

इस पर उसने फरवरी 2018 में उसे पुजारी की मौजूदगी में 3 लाख रुपये दिए। अलग अलग समय में 87 हजार रुपये उसके खाते में और जमा कराए। परीक्षा परिणाम आने से पहले भी उसने 8 जनवरी 2019 को अपने घर पर आरोपित को 4 लाख रुपये दिए। बाद में जब परीक्षा परिणाम आया तो उनके बच्चों की नौकरी नहीं लगी। इस पर उन्होंने आरोपित से पैसे वापस मांगे तो उसने पैसे देने से साफ इंकार कर दिया। सीओ बीएस चौहान ने पुलिस को जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए थे। आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Check Also

अनिल परब की मुश्किलें बढ़ाते हुए ईडी ने मुरुद ग्राम पंचायत से लिए कुछ दस्तावेज

रत्नागिरी: अनिल परब मुद्दा: ईडी ने कुछ दस्तावेज जब्त किए: ईडी ने दापोली के मुरुद ग्राम पंचायत …