रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने सीएम योगी को बताया अपना राजनैतिक गुरु, सियासी खेमे में मची हलचल

उत्तर प्रदेश के रायबरेली से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सांसद हैं। इसी जिले की सदर सीट से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह के बागी तेवर से पार्टी परेशान है। सोमवार को अदिति सिंह ने सार्वजनिक तौर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपना राजनैतिक गुरु बता दिया। इसके बाद सियासी खेमे में हलचल बढ़ गई है। अदिति सिंह कई मौकों पर भाजपा की नीतियों के समर्थन में पार्टी लाइन से हटकर बयान दिए हैं। कांग्रेस ने उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द कराने के लिए याचिका भी दाखिल की थी। लेकिन, विधानसभा अध्यक्ष ने याचिका को खारिज कर दिया था।

रायबरेली शहर के सिविल लाइन चौराहे पर कमला नेहरू ट्रस्ट की जमीन पर कई दशकों से काबिज पटरी दुकानदारों को न्यायालय के आदेश पर वहां से हटाने के लिए जिला प्रशासन ने नोटिस जारी किया है। इसके बाद विधायक अदिति सिंह दुकानदारों के पक्ष में उतर आई हैं। विधायक ने कहा कि, ‘मैं खुले मुंह से कहना चाहती हूं कि आज जो इनकी दुकानें बची हैं, वो मेरे राजनैतिक गुरु और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की वजह से है। हम ये लड़ाई लड़ रहे थे, उनके संज्ञान में जब लाई तो उन्होंने कहा कि हम पूरी तरीके से इसकी जांच कराएंगे, जो भी होगा न्याय होगा।’

अदिति सिंह ने कमला नेहरू ट्रस्ट पर निशाना साधते हुए कहा कि जब जमीन पर कई दशक से ये दुकानदार काबिज हैं तो ट्रस्ट के पक्ष में ये जमीन कैसे फ्री होल्ड हो गई। फिलहाल इस मौके पर भारी भीड़ जमा रही और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां प्रशासन की मौजूदगी में उड़ती रही।

 

Check Also

गाजियाबादः थाने में हुई मारपीट के आरोपी की मौत, पुलिस पर उठे सवाल, कौन देगा जवाब ?

गाजियाबाद : गाजियाबाद पुलिस क्या पुलिस स्टेशन में लाने के बाद लोगों को करती है प्रताड़ित, …