राम अचल राजभर समेत चार अभियुक्तों की अंतरिम जमानत अर्जी खारिज

एमपी-एमएलए कोर्ट के विशेष जज पवन कुमार राय ने भाजपा नेता दयाशंकर सिंह के परिवार की महिलाओं व उनकी बेटी के लिए अमर्यादित शब्दों का इस्तेमाल करने के आपराधिक मामले में बसपा के तत्कालीन राष्ट्रªीय महासचिव राम अचल राजभर व तत्कालीन राष्ट्रªीय सचिव मेवालाल गौतम समेत अतर सिंह राव तथा नौशाद अली की अंतरिम जमानत अर्जी खारिज कर दी है। उन्होंने अभियुक्तों की अग्रिम जमानत अर्जी पर सुनवाई के लिए दो नवंबर की तारीख मुकर्रर की है।

 

22 जुलाई, 2016 को इस मामले की नामजद एफआईआर दयाशंकर सिंह की मां तेतरी देवी ने थाना हजरतगंज में दर्ज कराई थी। सरकारी वकील मुनेश बाबू यादव के मुताबिक 12 जनवरी, 2018 को इस मामले में इन सभी अभियुक्तों के खिलाफ आईपीसी की धारा 506, 509, 153ए, 34, 149 व पाॅक्सो एक्ट की धारा 11 (1) के तहत भी आरोप पत्र दाखिल किया गया था। लेकिन तबसे अभियुक्त न तो अदालत में हाजिर हुए और न जमानत कराई। बीते 21 अक्टूबर को विशेष अदालत ने भगौड़ा घोषित करते हुए इनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी करने का आदेश दिया था।

Check Also

कौशांबी में दर्दनाक सड़क हादसा, स्कॉर्पियो पर पलटा ओवरलोड ट्रक, 8 की मौत

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले जिले में हुए भीषण सड़क हादसे में आठ लोगों की …