राजस्थान में विधायकों और मंत्रियों की निगरानी, हर रोज मूवमेंट की देनी होगी जानकारी: सूत्र

जयपुर: राजस्थान में सियासी पारा एक बार फिर गर्मा गया है। सीएम अशोक गहलोत और सचिन पायलट गुट के बीच तीखी बयानबाजी के बीच बदलते घटनाक्रम में अब सीएम अशोक गहलोत ने किसी भी तरह की बगावत से बचने के लिए मंत्रियों और विधायकों की निगरानी शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक पायलट गुट के बग़ावत के बाद ,गहलोत ने विधायकों और मंत्रियों की निगरानी शुरू कर दी है। हर सुबह 11 बजे अधिकांश मंत्रियों और विधायकों के पीए को मूवमेंट की जानकारी देने के लिए कहा गया है। उन्हें यह जानकारी देने के लिए कहा गया है कि मंत्री जयपुर में हैं या बाहर। यात्रा कार्यक्रम की पूरी जानकारी मांगी गई है। मंत्रिमंडल सचिवालय ने इस संबंध में आदेश दिए हैं।

 राजस्थान में सियासी हलचल तेज होने के साथ ही बागी रुख अख्तियार कर चुके सचिन पायलट आज दिल्ली आ रहे हैं। कांग्रेस आलाकमान से उनकी आज मुलाकात हो सकती है। दिल्ली आने से पहले सचिन पायलट दौसा के लिए रवाना हुए हैं, जहां उन्हें अपने पिता को श्रद्धांजलि देना है। उनके पिता राजेश पायलट की आज पुणयतिथि है। सचिन पायलट शाम 4 बजे दिल्ली पहुंच जाएंगे। कल सचिन से 5 विधायकों ने मुलाकात की थी। इस मुलाकात के बाद अटकलों का बाज़ार गर्म है।

Check Also

बीजापुर : वन विभाग की टीम ने बेजा कब्जा हटाया

बीजापुर, 15 जून (हि.स.)। नगर पालिका के वार्ड क्रमांक सात के चट्टानपारा में वन भूमि …